आनलाइन गरजे शिवराज..अब नहीं रहा क्रेडिबल छत्तीसगढ़..राहुल न पढ़ाएं राष्ट्रीयता का पाठ..बताएं चीन से किस तरह का MOU

????????????????????????????????????

बिलासपुर—छत्तीसगढ़ जनसंवाद रैली को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश शिवराज सिंह चौहान ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से भोपाल किया। छत्तीसगढ़़ जनसंवाद रैली में भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री, छत्तीसगढ़ प्रदेश प्रभारी, राज्यसभा सांसद अनिल जैन दिल्ली से भाग लिया। रायपुरसे भाजपा प्रदेशाध्यक्ष विष्णुदेव साय, भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह, भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री, राज्यसभा सांसद सरोज पाण्डेय, अनुसूचित जनजाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष, राज्यसभा सांसद, रामविचार नेताम, छत्तीसगढ़ विधानसभा नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक भी जनसंवाद रैली में आनलाइन भाग लिया।

      जनसंवाद रैली के मुख्यवक्ता भाजपा शिवराज सिंह चौहान ने छत्तीसगढ़ सरकार पर जमकर हमला किया। उन्होने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य के विकास कि पूरी तरह अनदेखी की है। वादाखिलाफी कर प्रदेश को अराजकता के गर्त में धकेल दिया है। पहले छत्तीसगढ़ को सीजी कहने से क्रेडिबल ग्रोथ का बोध होता था। लेकिन कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में सीजी से केओटिक गवर्नेंस का अहसास होता है। विश्वसनीय विकास के बदले अराजक शासन देने वाली सत्यानाशी कांग्रेस सरकार को चुल्लू भर पानी में डूब जाना चाहिए।

          चौहान ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार ने कोरोना संकट से निपटने के बजाय सियासी नौटंकियां की और संघीय व्यवस्था की अवहेलना की। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री बघेल वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में प्रधानमंत्री से लॉकडाउन बढ़ाने की बात करते हैं। बाद में सवाल उठाते हैं कि देश में अचानक लॉकडाउन क्यों कर दिया गया? केन्द्र सरकार ने गरीब कल्याण योजना के तहत 1.70 लाख करोड़ रुपए का प्रावधान किया। लॉकडाउन से प्रभावित परिवारों को हर तरह की सहायता दी गयी।   छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री बताये कि उन्होंने अपने प्रदेश में क्या किया?

                  शिवराज ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में एक नया भारत दुनिया के सामने खड़ा हुआ है। भारतीय संप्रभुता को चुनौती देने वाली ताकतों की आंख में आंख डालकर जवाब दे रहा है। भारत का मान सम्मान विश्व में बढ़ा है। भारत-चीन सीमा विवाद और हाल ही के गलवान घाटी की हिंसक झडप की चर्चा करते हुए चौहान ने कहां की चीन यह अच्छी तरह समझ चुका है कि यह 1962 का भारत नही है। कांग्रेस को  बताना चाहिए कि चीन के प्रति उसका रूख नरम क्यों है? और वह भारतीय सेना मनोबल गिराने वाली भाषा क्यों बोल रही हैं? कांग्रेस देश को बताये कि राजीव गांधी फाउंडेशन को चीन से चंदा किन शर्तो पर मिला। कांग्रेस और चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के बीच एमओयू का आधार क्या था। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री ने  केन्द्र सरकार के पहले कार्यकाल और दूसरे कार्यकाल के एक वर्ष की उपलब्धियों पर भी विस्तार से प्रकाश डाला ष उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री  मोदी के नेतृत्व में भारत आत्मनिर्भर बनेगा। चीनी सामान से देश का सम्मान हमारे लिए ज्यादा जरुरी है।
रै

       ली को भाजपा प्रदेशाध्यक्ष विष्णुदेव साय, अनुसूचित जनजाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष, राज्यसभा सांसद, रामविचार नेताम, भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री, राज्यसभा सांसद सुश्री सरोज पाण्डेय, भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री, छत्तीसगढ़ प्रदेश प्रभारी, भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री, राज्यसभा सांसद अनिल जैन, भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने भी संबोधित किया। छत्तीसगढ़ विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने आत्मनिर्भर भारत का संकल्प दिलाया। रैली का संचालन पूर्व मंत्री राजेश मूणत और आभार भाजपा प्रदेश प्रवक्ता भूपेन्द्र सवन्नी ने किया।

छत्तीसगढ़ जनसंवाद रैली को भाजपा कार्यालय बिलासपुर में मंच बनाकर बड़ी स्क्रीन के माध्यम से  बिलासपुर जिले के विधानसभा बिल्हा, बेलतरा, तखतपुर, मस्तूरी, कोटा, मरवाही के विभिन्न स्थानों पर स्क्रीन, बड़ा टीव्ही के माध्यम से एवं हजारों कार्यकर्ताओं द्वारा मोबाईल में फेसबुक, यूट्यूब, ट्विटर के माध्यम से देखा और सुना गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *