सड़क नामकरण का झगड़ा..रोटरी क्लब पर फूटा भाजपा नेता का गुस्सा..कहा सरकारी धन से बनी बायपास सड़क.. निगम करे कार्रवाई

बिलासपुर— –भाजपा नेता दुर्गा सोनी ने रोटरी क्लब को अवैधानिक तरीके से सड़क नामकरण को लेकर चेतावनी दी है। पार्षद सोनी ने बताया कि राजेन्द्र नगर रोड से जूनी लाइन मध्य नगरी, तेलीपारा से ज्वाली नाला बाईपास सड़क का निर्माण सरकारी धन से हुआ है। तात्कालीन निकाय मंत्री अमर अग्रवाल ने एक कार्यक्रम में फीता काटकर सड़क का लोकार्पण भी किया। लेकिन अब कुछ अवसर वादी रोटेरियन हाथ आटा लगाकर भंडारी बन रहे हैं। सरकारी धन से बनी सड़क को रोटरी क्लब का नाम दे रहे है। ऐसे लोगों पर सख्त कार्रवाई की जरूरत है।

                    भाजपा पार्षद दुर्गा सोनी ने सोमवार को निगम आयुक्त को पत्र देकर सड़क नामकरण का विरोध किया है। दुर्गा सोनी ने बताया कि ज्वाली नाला तटबंध बनाने और शहर की पानी निकासी को लेकर 1996 से 2000 के बीच रोटरी क्लब ने प्रयास से 2 करोड़ रूपए खर्च किए। रोजमेरी योजना के तहत ज्वालीनाम को दो तरफ से लालपत्थर से बांधा गया। लेकिन योजना अधूरी खत्म हो गयी। इसके बाद ज्वाली नाला पर किसी प्रकार का काम नहीं किया गया। 

     राज्य बनने के बाद तात्कालीन प्रदेश नगरीय निकाय मंत्री अमर अग्रवाल के प्रयास से छत्तीसगढ़ प्रशासन ने ज्वाली नाला बायपास सड़क समेत अन्य सड़कों के निर्माण पांच करोड़ खर्च किए । राजेन्द्र नगर रोड से जूनी लाइन मध्य नगरी, तेलीपारा सड़क निर्माण कराया गया। इसी समय अमर अग्रवाल के विशेष से ज्वाली तेलीपारा को जडने वाली बायपास सड़क का भी निर्माण किया गया। जबकि यहां केवल पगड़ंडी हुआ करती थी। सड़क निर्माम के बाद एक कार्यक्रम में तात्कालीन निकाय मंत्री ने फीता काटकर आम जनता को समर्पित किया था।

             काम पूरा होने और सरकार बदलने के बाद रोटरी क्लब के अवसरवादी पदाधिकारियों ने पैंतरा बदलने में देरी नहीं की। बिना निगम को संज्ञान में लाए सरकारी धन से बनी सड़क का नाम रोटरी क्लब मार्ग कर दिया। जबकि इस प्रकार की गतिविधियां निकाय नियम के खिलाफ है। बावजूद इसके रोटरी क्लब के पदाधिकारी ने ऐसा क्यों किया सबको पता है। 

                  दुर्गा सोनी ने आयुक्त को लिखे पत्र में बताया कि रोटरी क्लब के नाम से ज्वालीनाला बाईपास का नामकरण निकाय अधिनियम के खिलाफ है। सबको मालूम है कि नामकरण कार्रवाई की प्रक्रिया होती है। सामान्य सभा में एक प्रस्ताव लाना होता है। यह जानते हुए भी कि पिछले 6 महीने से सामान्य सभा की बैठक नहीं हुई है। बावजूद इसके रोटरी क्लब के पदाधिकारी जगह जगह होर्डिंग लगाकर सड़क का नामकरम कर रहे हैं। रोटरी क्लब ने निगम को बिना जानकारी  में लाए  अवैध तरीके से सड़क का नामकरण कर रहा है। क्लब के पदाधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। होर्डिंग को निकलवा कर क्लब पर चार्ज लगायी जाए।

         दुर्गा सोनी ने कहा रोटरी क्लब के पदाधिकारी ऐसा क्यों कर रहे हैं। सबको मालूम है । झूठी वाहवाही बाज आए। मामले में अन्य भाजपा नेताओं ने विरोध का फैसला किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *