2 वर्ष की सेवा का सम्मान तो 22 साल की सेवा का भी रखो मान,फेडरेशन ने कहा-सहायक शिक्षको के साथ अब तक न्याय नही

रायपुर-छ ग सहायक शिक्षक फेडरेशन ने राज्य सरकार द्वारा 2 वर्ष की सेवा अवधि पूर्ण करने वाले शिक्षकों का संविलियन नवम्बर में किये जाने के निर्णय का स्वागत किया है.साथ ही कहा कि वैसे भी नवम्बर तक लगभग अधिकतर शिक्षक 8 वर्ष की सेवा अवधि पूर्ण कर चुके होंगे और 8 वर्ष पूर्ण होते ही उनका संविलियन तो होना ही था.इस वर्ष बन्धन वाले संविलियन का लाभ समस्त 16 हजार शिक्षको को नही मिलेगा.क्योकि हजारो शिक्षको की सेवा अवधि 8 वर्ष लगभग नवम्बर तक पूरी हो जाएगी.जिससे उनका संविलियन तो होना ही था.वर्ष बन्धन युक्त संविलियन में महज कुछ हजार शिक्षको को ही लाभ मिल पाएगा.CGWALL NEWS के व्हाट्सएप ग्रुप से जुडने यहाँ क्लिक कीजिये

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि राज्य सरकार ने दो वर्ष की सेवा का तो सम्मान किया मगर विगत 22 साल से सेवा दे रहे सहायक शिक्षको के साथ अब तक न्याय नही किया है।प्रदेश अध्यक्ष मनीष मिश्रा, प्रदेश उपाध्यक्ष शिव मिश्रा, सुखनंदन यादव, अजय गुप्ता, सी डी भट्ट, बलराम यादव, रंजीत बनर्जी दिलीप पटेल, कौशल अवस्थी, रवि लोहसिह, श्रीमती प्रेमलता शर्मा, श्रीमती उमा पांडेय, हुलेश चन्द्राकर, विकास मानिकपूरी, बसन्त कौशिक, छोटे लाल साहू, आदित्य गौरव साहू, अस्वनी कुर्रे, शिव सारथी, बी पी मेश्राम, राजकुमार यादव जलज थवाईत राजेश प्रधान श्रीमती खिलेस्वरी शांडिल्य, श्रीमती बनमोती भोई ने राज्य सरकार से 22 साल की सेवा का सम्मान दिलाने की मांग की करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने पूर्व सरकार के 8 वर्ष के संविलियन के बंधन को समाप्त तो कर दिया.

मगर वेतन विसंगति का दंश झेल रहे सहायक शिक्षको के साथ न्याय नही किया है आज भी हर सहायक शिक्षक राज्य सरकार को आशा भरी निगाह से देख रहा है उक्त पदाधिकारियों ने जारी बयान में कहा कि जब राज्य सरकार मध्यप्रदेश सरकार की तर्ज पर संविलयन में वर्ष बन्धन को समाप्त करने का ऐतिहासिक निर्णय ले सकता है तो मध्यप्रदेश में सहायक शिक्षको को जो वेतन दिया जा रहा है वह वेतन क्यो लागू नही कर सकता।उक्त पदाधिकारियों ने कहा कि वर्ष बन्धन समाप्त होने के उपरांत अब नया संविलियन नियम का निर्माण करना ही पड़ेगा.

ऐसे में नवम्बर में होने वाले संविलियन के नए नियम में सहायक शिक्षको की वेतन विसंगति को दूर करने का निर्णय भी सरकार को लेना चाहिए.फेडरेशन के समस्त पदाधिकारीयो ने राज्य सरकार से नवम्बर में होने संविलियन में के दौरान सहायक शिक्षको की वेतन विसंगति को दूर करने की मांग करते हुए कहा कि हजारों सहायक शिक्षक जो रिटायर्ड होने की स्थिति में पहुच गए है.

सरकार ने ऐसे सहायक शिक्षको को न तो पदोन्नति का लाभ दिया न ही उच्चत्तर वेतनमान दिया पूर्व की राज्य सरकार ने संविलियन के दौरान सहायक शिक्षको को वेतन विसंगति युक्त संविलयन कर हजारो सहायक शिक्षको की 22 वर्ष की सेवा को दरकिनार कर वेतन विसंगति की मार दी,जिसकी पीड़ा आज भी बरकरार है.प्रदेश का सहायक शिक्षक विस्वास भरी निगाह से सरकार को देख रहा है कि सरकार को भी चाहिए कि 22 साल से एक ही पद पर कार्य करने वाले सहायक शिक्षको न्याय दिलाए और आगामी नवंबर में होने वाले संविलियन नियम में सहायक शिक्षको की 22 साल की सेवा का सम्मान करें और वेतन विसंगति का निदान करे।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...