कलेक्टर की बैठक में छूटा अधिकारियों को पसीना..डॉ. मित्तर ने किया विभाग प्रमुखों से संवाद..किया दो टूक.. शिकायत में नहीं..काम में विश्वास

बिलासपुर–लम्बे समय बाद मंथन सभागार में सार्थक और जंगी बैठक हुई। इस दौरान कलेक्टर मित्तर ने एक एक विभाग के एक एक अधिकारियों से विभागीय कार्रवाइयों को लेकर बारीकी से बातचीत की।  कलेक्टर ने कहा जिले को हरा-भरा करने इस साल 24 लाख से अधिक पौधे लगाना है. डाॅ.सारांश मित्तर ने जोर देते हुए कहा कि पौधरोपण कार्य में गति लाते हुए प्रत्येक विकासखंड में लक्ष्य निर्धारित कर पौधरोपरण के साथ संरक्षण भी करना है।

            मंथन सभागार में टीएल की बैठक में कलेक्टर ने डॉ. सारांश मित्तर ने कहा कि लोगों को प्रेरित करने के लिये जिला स्तरीय पौधरोपण अभियान चलाना है। इसमें वन विभाग, मनरेगा और उद्यानिकी विभाग के मार्गदर्शन में पौधरोपण की गंभीरता को जन जन तक पहुंचाना है।
 
पंप का किया जाएगा भौतिक सत्यापन
 
          बैठक में गौठानों के निर्माण और व्यवस्था को लेकर चर्चा हुई। कलेक्टर ने कहा जिले में नरवा, गरूवा, घुरूवा और बारी योजना अंतर्गत गौठानों में पानी की व्यवस्था के लिये सोलर पंप स्थापित किये जा रहे हैं। क्रेडा ने 66 गौठानों में पंप स्वीकृत किया है। 38 जगहों पर पंप स्थापित भी हो चुका है। कलेक्टर ने स्पष्ट किया कि इसका भौतिक सत्यापन बहुत जरूरी है। 
 
20 जुलाई को होगा गोधन योजना का श्रीगणेश
      
                 कलेक्टर ने अधिकारियों को बताया कि प्रथम चरण में 72 गौठान स्वीकृत हुए हैं। द्वितीय चरण में 175 गौठान स्वीकृत हुआ है। सभी गौठानों के कार्य तेजी से किया जाए। इस बात को ध्यान जरूर रखा जाए कि लापरवाही किसी भी सूरत में बर्दास्त नहीं किया जाएगा। लेकिन काम करने वालों का पुरा समर्थन रहेगा। हरेली त्यौहार के दिन 20 जुलाई को गोधन न्याय योजना शुरू की जाएगी। संबंधित विभाग आज और अभी से आवश्यक तैयारी शुरू कर दें। 
 
राजस्व अधिकारियों को सख्त निर्देश

                कलेक्टर ने राजस्व अधिकारियों को सीमांकन, बंटवारा, नकल के प्रकरण समय सीमा में निराकृत करने को कहा। सभी एसडीएम को राजस्व संबंधित प्रकरणों के निराकरण की समीक्षा करने और सुधार लाने को कहा। राजस्व अभिलेख दुरूस्तीकरणके लिए बेहतर कार्य करने के साथ  डिजिटल हस्ताक्षर में तेजी लाने की बात कही।
 
खाद बीज कमी को लेकर जताई नाराजगी
 
        कलेक्टर ने बताया कि मानसून आने के साथ किसानों की सक्रियता बढ़ गयी है। जरूरी है कि किसी भी किसान को खाद-बीज की कमी ना हो। ना ही शिकायत आए। उन्होने कहा कि मस्तूरी में खाद की समस्या को जल्द से जल्द दूर किया जाए। कलेक्टर का सख्त रूख देखते ही मार्कफेड अधिकारी ने बताया कि जिले में पर्याप्त खाद-बीज उपलब्ध हैं। कही भी खाद बीज की कमी नही आएगी।
 
निगम अधिकािरयों को फटकार
 
         कलेक्टर ने अमृत मिशन कार्य के दौरान आ रही शिकायतो को गंभीरता से लिया । उन्होने सख्त निर्देश दिया कि गड्ढे खोदने के बाद मरम्मत ठीक से किया जाए। निगम अधिकारियों को दो टूक कहा कि ठेकेदारों से मानक के साथ कड़ाई से काम करवाए।
 
निगम योजनाओं की विशेष समीक्षा

                          बैठक में मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान को लेकर भी चर्चा हुई। सूखा राशन वितरण की लगातार मानिटरिंग करने का निर्देश दिया। वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के तहत राशनकार्डों में आधार सीडिंग अभियान को तेज करने का निर्देश दिया गया। नगर निगम में संचालित मुख्यमंत्री वार्ड कार्यालय, शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना, मुख्यमंत्री हाॅट बाजार क्लीनिक योजना और टीएल के लंबित आवेदनों को लेकर भी कलेक्टर ने गंभीरता जाहिर की।
 
अधिकारियों को छूटा पसीना

              बैठक में जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी गजेन्द्र सिंह ठाकुर, डीएफओ बिलासपुर कुमार निशांत समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे। बैठक के बाद अधिकारियों के चेहरे पर हवाइयां उड़ रही थी। इस दौरान अधिकारियों में इस बात को लेकर भी चर्चा रही कि काम को गंभीरता से लेने में ही भलाई है।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...