कानन में हजारों लोगों ने मनाया क्रिसमस

IMG-20151225-WA0008IMG-20151225-WA0004बिलासपुर– क्रिसमस दिवस पर कानन पेण्डारी सैलानियों का स्वर्ग बन गया। आज कुल 6619 पर्यटकों ने अपना समय वन्य जीवों के बीच में बीताया। 4573 वयस्क और 2046 बच्चों ने क्रिसमस पर प्रकृति का जमकर आनंद उठाया। वहीं वन कर्मचारियों में भी भीड़ के मद्देनजर जमकर उत्साह देखने को मिला।

                                  किसमस पर 6 हजार से अधिक सैलानी वन्य जीवों के बीच में त्योहार का आनंद उठाया। आज कानन को कुल 112067 की आय हुई है। कानन में आज भी सर्द मौसम रहा। वन्य प्राणियों को ठंड से बचाव में सभी शाकाहारी वन्यप्राणी चीतल, नीलगाय, बारहसिंगा, मणिपुरी हिरण, हाग डियर, सांबर, कोटरी, चौसिंगा, कालाहिरण, सफेद हिरण, गोराल, चिंकारा एवं जंगलीसूअर के बाड़े में पेड़ों के नीचे और फिडिंग शेड के नीचे पैरा डलवाया गया है।

                   इससे जीवों को ठंड से सुरक्षा के साथ ही खाने की भी व्यवस्था हो जाती है। जंगली बिल्ली, लकड़बग्घा, रेटल, कब्रबिज्जू, सियार एवं भालू के केज में भी पैरा डाला गया है। सांप केज और चिड़ियाघर में बल्ब लगाये गए हैं। रात और दिन जलाकर केज की तापमान को वन्य प्राणियों के अनुकूल नियंत्रित रखा जा रहा है।

                     बड़े मांसाहारी प्राणी जैसे लायन, टाईगर, तेंदूआ आदि रात्रि में नाईट इन्क्लोजर मे रहते हैं.। कानन के सभी स्लाईडर गेट में प्लाई लगाकर बाहर की ठंडी हवा को अन्दर जाने रोका जा रहा है। सांप केज में आवश्यकता के अनुसार रूम हीटर लगाकर तापमान 30 से 35 डिग्री रखा गया है।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...