बंदियों की कलाई पर राखी नही बांध सकेंगी बहने,सेनेटाइजेशन के बाद सौपी जाएंगी डाक से मिली राखियां

कोरबा।कोरोना का असर भाई-बहन के पवित्र रिश्ते से जुड़े पर्व पर भी पड़ा है।इस बार जेलों में निरुद्ध भाइयों को बहने राखी नहीं बांध सकेंगी।वे डाक से ही भाइयों को राखी भेज सकेंगी। जिसे सैनिटाइजेशन के बाद भाइयों को सौंपा जाएगा।वहीं जेल प्रबंधन की ओर से भाई बहनों को बातचीत के लिए फोन सुविधा उपलब्ध कराएगा। प्रदेश में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है इसकी रोकथाम के लिए शासन में जिला प्रशासन को निर्देश दिए हैं जिसका पालन करते हुए अधिकांश जिलों लॉकडाउन में लागू किया गया है।लॉकडाउन के बीच की सोमवार को भाई-बहन के पवित्र रिश्ते से जुड़ा पर्व रक्षाबंधन मनाया जाएगा।इस पर्व में बहने भाइयों की कलाई पर राखी का पवित्र धागा बांधकर रक्षा का वचन देंगी।CGWALL NEWS के व्हाट्सएप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये

इस बार जेलों में बंदी भाइयों की कलाइयां सूनी रहेंगी।जेल प्रबंधन की ओर से रक्षाबंधन के लिए विशेष तैयारियां की जाती थी।जेल के बाहर बहनों की कतार लगती थी। लेकिन इस बार कोरोना संक्रमण के चलते रक्षा बंधन का आयोजन नहीं किया जाएगा।जेल पहुंचकर बहनों भाइयों को राखी नहीं बांधी वे डाक के माध्यम से जेल में निरुद्ध भाइयों को राखी भेज सकती हैं। यह राखी सैनिटाइजेशन के बाद ही बंदी भाइयों को सौपी जाएगी। खास बात यह है कि रक्षाबंधन के दिन बहनों को भाइयों की कमी ना खले, वे दुख सुख बांट सके इसके लिए जेलों में फोन की सुविधा रहेगी।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...