अरपा की गोद में भोजली विसर्जन.. मेयर ने सिर पर रखा जवारा..कई लोगों ने बनाया परम्परा अनुसार मितान

बिलासपुर—- ऐ देवी गंगा लहर तुरंगा मधुर सामुहिक गीत के बीच आज माता अरपा की गोद में विसर्जित किया गया। भोजली विसर्जन कार्यक्रम में मेयर रामशरण ने भी शिरकत किया। इस दौरान सभी ने एक दूसरे के कान में जवारा खोंसकर दोस्ती और प्यार का संकल्प लिया। साथ ही एक दूसरे को बधाई भी दी। लेकिन कोरोना काल के चलते लोग गले मिलने से बचते भी नजर आए। 
 
               अरपा तट पर लोगों ने भक्तिभाव के साथ एकत्रित होकर भोजली का माता अरपा नदी के गोद मे विसर्जित किया। इसके पहले लोग सस्वर पाठ ऐ देवी गंगा लहर तुरंगा गाते हुए सिर पर जवारा की टोकरी लेकर अरपा तट पहुंचे। भोजली विसर्जन कार्यक्रम तोरवा स्थित पटेल मुहल्ला में किया गया। कार्यक्रम में मेयर रामशरण यादव ने भी शिरकत किया।
 
               बताते चलें कि कार्यक्रम का आयोजन  भोजली समिति तोरवा के सौजन्य हर साल की तरह इस साल भी आयोजित किया गया। कार्यक्रम के बतौर मुख्यअतिथि महापौर रामशरण यादव के अलावा एमआईसी सदस्य अजय यादव ने भी शिरकत किया।
 
              महापौर यादव ने अपने सिर पर भोजली की टोकरी रखकर अरपा नदी स्थित तोरवा घाट पहुंचे। उन्होने भोजली का विसर्जन भी किया। मेयर ने कहा कि छत्तीसगढ़ी संस्कृति का निर्वाह करते हुए हरियाली और खुशहाली का पर्व भोजली नगर ही नहीं बल्कि प्रदेश में प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी विधि-विधान और उत्साह के साथ मनाया गया।
 
                  समिति ने  कोरोना काल में भी परंपरा का निर्वहन शिद्दत से किया। भोजली पर्व को लेकर जहां महिलाओं में उत्साह बना रहा। वहीं बच्चों मेे भी उमंग को देखते ही बना। मेयर ने बताया कि छत्तीसगढ़ी मान्यता के अनुसार भोजली को मितान बदने के दिवस के रूप में भी मनाया जाता है। भादो लगन के 21 दिन पहले लोग घरों में गेहूं के दानों को टोकरी में बोते हैं। इसके बाद 22वें दिन भादो के पहले दिन भोजली का विसर्जन नदी या तालाब में  विसर्जित किया जाता है।
 
            मेयर ने बताया कि भोजली तिहार प्रदेश समेत तोरवा के लोगों ने हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी हर्षोल्लास से मनाया।  भोजली निकाला गया । तोरवा वासियों ने हर्षोल्लास के साथ भोजली विसर्जन किया। इस दौरान सभी लोगों ने एक दूसरे को भोजली भेंट कर अपने प्रेम को जाहिर किया। साथ ही कई लोगों ने मितान भी बनाया।
 
          विसर्जन के दौरान सभी ने लोगों ने सामुहिक रूप से सस्वर ऐ देवी गंगा लहरा तुरंगा गीत का पाठ किया। भोजली विसर्जन के दौरान लोगों ने शहर की खुशहाली की कामना की। भोजली समिति अध्यक्ष शंकर यादव, सुनील भोई,मुकेश केंवट, नंदकिशोर यादव, कमल पटेल,सन्नी यादव,विनोद भोई,देवा भोई, शुभम् यादव,धनेश रजक राजा पांडेय, अनिल यादव, सुभाष चौधरी, गोपाल यादव, , गीता निर्मलकर, धन्नू पटेल, रामचरण रजक,कन्हैया पटेल, रामबाई सैनिक, रामप्यारी पटेल,जुगगा भोई, सुखमत केंवट, दुर्गा विशवकर्मा, पार्वती यादव, संगीता यादव, सभी लोगों ने इस दौरान सभी लोगों को शुभकामनाए भी दी।
loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...