सोशल मीडिया में सीएम के पोस्ट से बिलासपुर खुश..लिखा अरपा तट पचरी घाट बैराज को वित्तीय अनुमति..हसदेव कछार को गुणवत्ता का रखना होगा ध्यान..नगर विधायक ने जताई खुशी.

बिलासपुर—- मुख्यमंत्री ने सोशल मीडिया में बिलासपुर वासियों के लिए खुशखबरी दी है। अपने पोस्ट में सीएम ने लिखा है कि अरपा तट पचरी घाट में बैराज को स्वीकृत किया गया है। बैराज निर्माण में 48 करोड से अधिक रूपए खर्च होंगे। हसदेव कछार जल संसाधन विभाग को बैराज निर्माण की जिम्मेदारी दी गयी है। 
 
सीएम ने क्या लिखा
 
          श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के ठीक एक दिन पहले प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल ने बिलासपुर वासियों को खुशियों भरा तोहफा दिया है। उन्होने सोशल मीडिया पोस्ट में लिखा है कि बिलासपुर जिले की नदी अरपा तट स्थित पचरी घाट में बैराज बनाया जाएगा।  बैराज के लिए 48 करोड 97 लाख 53 रूपए स्वीकृत किए गए हैं।  इस योजना से जल संरक्षण, पेयजल एवं भू-जल संवर्धन का कार्य किया जाएगा।  बैराज निर्माण के कार्य को पूर्ण कराने के लिए जलसंसाधन विभाग मंत्रालय महानदी भवन से मुख्य अभियन्ता हसदेव कछार जल संसाधन विलासपुर को प्रशासकीय स्वीकृत दी गयी है। बैराज निर्माण कार्य निर्धारित समय में गुणवत्ता के साथ पूर्ण कराने का निर्देश भी दिया गया है। 
 
शैलेष ने कहा…सीएम से बिलासपुर को बड़ा तोहफा
             सीएम के पोस्ट का नगर विधायक शैलेष पाण्डेय ने ना केवल खुशी जाहिर किया है। बल्कि पोस्ट और मुख्यमंत्री के बिलासपुर के प्रति अनुराग को बहुत बड़ा बताया है। विधायक ने बताया कि अरपा के दोनों बैराज की स्वीकृति मिल चुकी है। बैराज का निर्माण 99 करोड़ में पूरा होगा।
 
            विधायक ने कहा कि बिलासपुर के नागरिकों की वर्षों पुरानी मांग पूरी हो रही है।  अरपा नदी में 12 महीने पानी रहेगा। खुशी है कि मुझे बिलासपुर की जनता की तरफ से विधानसभा में बैराज और अरपा के उन्नयन के मुद्दे को उठाने का मौका मिला। इससे ज्यादा खुशी अब है कि प्रदेश की मुखिया ने इस बात को ना केवल गंभीरता से लिया बल्कि मांग को त्वरित स्वीकार करते हुए दो बैराज बनाए जाने की बात कही।  मुख्यमंत्री ने 2 बैराज सैंक्शन करते हुए बिलासपुर की सालों पुरानी मांग को पूरा किया है।
 
        शैलेश ने जानकारी दी कि बिलासपुर  विधानसभा में अरपा नदी में 2 बैराज बनेंगा। एक बैराज  शिव घाट और दूसरा पचरी घाट में बनेदागा। अब सीएम ने वित्तीय अनुमोदन भी कर दिया है। बैराज बन जाने के बाद बिलासपुर की सबसे बड़ी समस्या पेयजल की दूर हो जाएगी। इसके अलावा अन्य समस्याएं भी खत्म हो जाएंगे।
 
खत्म होगी पानी की समस्या
 
             लगभग 100 करोड़ रुपये से तैयार होने वाली योजना के पूरा होने के बाद अरपा में हमेशा पानी रहेगा। बिलासपुर का जल स्तर भी बढ़ जाएगा। मुख्यमंत्री महोदाय और जल संसाधन मंत्री  का बहुत बहुत आभार है कि उन्होने बिलासपुर को बहुत बड़ी सौगात दी है।
loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...