हंगामेदार होगी निगम की सामान्य सभा..3 घंटे की हुई भाजपा पार्षदों की रणनीतिक बैठक..सम्पत्ति कर और जमीन मुद्दा पर होगा जमकर हंगामा

बिलासपुर—निगम की सामान्य सभा हंगामेदार होगी। आज भाजपा पार्षदों की करीब तीन घंटे की जंगी बैठक को पूर्व निकाय मंत्री अमर अग्रवाल ने संबोधित किया। बैठक का आयोजन पूर्व निकाय मंत्री आवास स्थित कार्यालय में किया गया। इस दौरान निगम सरकार को घेरने की रणनीति पर जमकर चर्चा हुई। साथ ही सम्पत्ति कर, जमीन आवंटन और निगम में शामिल किए गए  16 गांवों की स्थिति को लेकर घेरने की रणनीति को तैयार किया गया।

                         बैठक के बाद भाजपा के वरिष्ठ पार्षदों ने बताया कि बैठक में पूर्व मंत्री ने जरूरी दिशा निर्देश दिए हैं। इस दौरान निगम के कामकाज को लेकर समीक्षा हुई। इस दौरान निगम सरकार को घेरने कुछ रणनीतियों पर विचार विमर्श भी किया गया। 

           वरिष्ठ पार्षद ने बताया कि सामान्य सभा में प्रदेश सरकार की पिछले डेढ़ साल से अधिक समय में कामकाज का जवाब मांगा जाएगा। इस दौरान निगम के पिछले सात महीनों के कामकाज का हिसाब मांगा जाएगा। 

                   वरिष्ठ पार्षद ने बताया कि चुनाव के पहले कांग्रेस नेताओं ने वादा किया था कि सम्पत्ति कर का दर आधा किया जाएगा। लेकिन सात महीने बाद भी वादे पर अमल नहीं किया गया। उल्टे टैक्स को ढाई गुना कर दिया गया।  जिसके चलते आम जनता परेशान है। खासकर गांवों की जनता के आय के श्रोत नहीं है। उस पर ढाई गुना टैक्स का बोझ लाद दिया गया है। निगम क्षेत्र में मिलाए गए क्षेत्र अभी गांव ही है। जाहिर सी बात है कि इन क्षेत्रों में खाली जमीन और खण्डहर निर्माण का भी टैक्स लिया जाएगा। सवाल उठता है कि आखिर ग्रामीण क्षेत्र की जनता टैक्स का भुगतान कहां से करेगी। 

                  शहर में गांवो को शामिल किए जाने के बाद आधारभूत व्यवस्था बद से बदतर हो चुकी है। पंचायत होने तक गांवो का जमकर विकास हुआ। लेकिन शहर में शामिल होते ही सारी व्यवस्था चौपट हो चुकी है। जनता का हाल बेहाल है। शहर में शामिल होने के बाद गरीबों को मनरेगा का काम भी मिलना बन्द हो गया है। रोजगार का अवसर छीन लिया गया है।

      भाजपा पार्षदों ने यह भी संकेत दिया कि देखने में आ रहा है कि शहर की कमोबेश सभी बड़ी योजनाएं की जिम्मेदारी भ्रष्ट अधिकारियों के हाथों में सौंप दिया गया है। कई लोगों पर एफआईआर का आदेश भी है। कुछ चुनिंदा भ्रष्ट अधिकारियों को महत्वपूर्ण योजनाओं का प्रमुख बना दिया गया है। चाहें प्लेन्टोरियम हो या फिर स्मार्ट सिटी,सिवरेज, अमृत मिशन, ओव्हरब्रिज निर्माण की अति महत्वपूर्ण काम ही क्यों ना हो। सभी की जिम्मेदारी दागियों के हवाले कर दिया गया है। मामले में मेयर और जिम्मेदार लोगों से जवाब मांगा जाएगा।      

आडिटोरियम में होगी सामान्य सभा की बैठक        

             बताते चलें कि सामान्य सभा की बैठक पहली बार टाउन हाल की वजाय स्वर्गीय लखीराम आडिटोरियम में किया जाएगा। आडिटोरियम में सामान्य सभा बैठक कराने की मुख्य कोरोना प्रकोप को बताया जा रहा है। पर्याप्त जगह होने के कारण इस दौरान सभी लोगों को शासन के दिशा निर्देश के अनुसार बैठने की व्यव्था होगी। 

आयुक्त की उपस्थिति की संभावना कम

            बहुत कम उम्मीद है कि निगम आयुक्त प्रभाकर पाण्डेय सामान्य सभा की बैठक में मौजूद रहेंगे। एक दिन पहले ही उन्हें कोरोना पाजीटिव घोषित किया गया है।

एक दिन पहले हुई थी कांग्रेस पार्षदों की कार्यशाला

       जानकारी देते चलें कि इस बार निगम में ज्यादातर कांग्रेस के नए चेहरों को पार्षद बनने का मौका मिला है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए एक दिन पहले मंगलवार को कांग्रेस पार्षदों के लिए कांग्रेस भवन में विशेष कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस दौरान वरिष्ठ नेताओं ने सभी पार्षदों को निगम की कार्रवाई और सामान्य सभा की गतिविधियों को लेकर प्रशिक्षित किया।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...