आंगनबाड़ी खोलने के पहले केन्द्रों को पूरी तरह करना होगा सेनिटाईज, मास्क पहनना अनिवार्य,स्टाफ के संक्रमित पाए जाने तीन दिनों के हो जाएगा बंद

जशपुरनगर-कलेक्टर महादेव कावरे ने कहा कि जिले के आंगनबाड़ी केन्द्र के माध्मय से निम्न दो सेवाओं को 7 सितम्बर से प्रारंभ किया जाएगा। इनमें दोपहर का पोषण आहार पूर्ववत की तरह गरम भोजन के रूप में प्रदाय, आंगनबाड़ी केन्द्रों में आयोजित होने वाले स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस का संचालन, उन्होंने कहा है कि सभी आंगनबाड़ी केन्द्र खोले जाएंगे पर जो कंटनमेंट जोन में आते है अथवा जिला प्रशासन द्वारा बंद रखने का निर्णय लिया गया है। उन क्षेत्रों में केन्द्र संचालित नहीं होगी। उन्होंने जिले के महिला बाल विकास विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि 3 सितम्बर से 6 सितम्बर 2020 के मध्य केन्द्र प्रारंभ करने के पूर्व आंगनबाड़ी भवन का  सेनिटाईजेशन अनिवार्य रूप से करा लें साथ ही प्रत्येक हितग्राही का भवन में प्रवेश के पूर्व साबुन से सेनिटाईज करावा जाएगा। तथा उनकी स्क्रीनिंग की जाएगी।

स्क्रीनिंग करते समय प्रत्येक हितग्राही का बीमारियों के प्रारंभिक लक्षणों का भी आक्कलन किया जाएगा। जिनको सर्दी, खांसी, बुखार या अन्य बीमारी परिलक्षित होगी उन्हें भवन में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। स्क्रीनिंग हेतु पृथक से किसी अन्य उपकरण की क्रय की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा  है कि आंगनबाड़ी केन्द्रों में भोजन पकाने के बर्तन को उपयुक्त क्लिनिंग पाउडर से साफ कराया जाएगा। भोजन परोसते समय थाली में यथ संभव उपलब्धतानुसार पत्तल या केला पत्ता रखा जाएगे।
 हितग्राहियों को अलग-अलग समूहों में अलग-अलग समय में बुलाया जाएगा ताकि सामाजिक दुरी बनाया रखा जा सके। एक समय में 15 व्यक्ति से अधिक लोग भवन में नहीं होंगे।

गर्म भोजन के लिएपात्र हितग्राहियों 3-6 साल के छोटे बच्चे, गर्भवती महिलाआंे, सुपोषण अभियान के हितग्राहियों को ही आने की अनुमति होगी। कलेक्टर ने कहा कि आंगनबाड़ी केन्द्रों में प्रवेश करने वाले सभी हितग्राहियों को मास्क पहनना अनिवार्य होगा। साथ ही प्रत्येक हितग्राही के मध्य कम से कम 6 फीट की दूरी रखी जाएगी। छोटे बच्चों को मास्क पहनाने के संबंध में भारत सरकार के दिशा निर्देशों पालन किया जाएगा। साथ ही चिन्हांकित क्षेत्रों में टिफिन सुविधा पर भी विचार किया जाएगा। आंगनबाड़ी केन्द्र प्रारंभ करने के पूर्व सभी प्रवेक्षक, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं सहायिकाओ ंको प्रशिक्षण दिया जाएगा

आंगनबाड़ी केन्द्र के प्रारंभ के पूर्व सावधानियां
बच्चों के अभिभावकों के साथ बैठ कर उनसे सहमति प्राप्त करें। अभिभावकों को बच्चें के बीमार होने पर उन्हें घर पर रखने की महत्ता के बारे में बताना, साफ-सफाई, कोविड-19 के बारे में जागरूक करना आदि। किसी बच्चे या स्टाप के संक्रमण की पुष्टि होने की स्थिति में संक्रमित व्यक्ति द्वारा उपयोग किए गए स्थान को पूर्णतः बंद किया जाना। शुद्ध हवा के अंदर आने हेतु बाहर के खिड़की, दरवाजों को खोला जाना। संक्रमित व्यक्ति के द्वारा उपयोग किए गए स्थान जैसे आॅफिस बाथरूम तथा सार्वजनिक स्थान को साफ-करना तथा संक्रमण मुक्त किया जाना। किसी हितग्राही के अथवा स्टाप के संक्रमित पाए जाने पर केन्द्र को तीन दिवस के लिए पूर्णतः बंद किया जाएगा

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...