225 गांवों को मिलेगी कटौती से राहत ..MD ने बताया..कोरोना काल में हुआ तेजी से काम..कम्पनी ने बनाया रिकार्ड

रायपुर—-छत्तीसगढ़ में गुणवत्तापूर्ण और निर्बाध बिजली पहुंचाने के मद्देनजर पारेषण लाइनों का विस्तार किया जा रहा है। इसी क्रम में छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर ट्रांसमिशन कंपनी को 5 करोड़ की लागत से निर्मित अति उच्च दाब लाईन को ऊर्जीकृत करने में एक बड़ी कामयाबी मिली है। प्रदेश में बिजली डिमांड बढ़ने और लो-वोल्टेज की समस्या को ध्यान में रखते हुए कम्पनी ने नई अतिउच्च दाब (ईएचटी) लाईनों, उपकेंद्रों का कार्य युद्धस्तर पर किया जा रहा है। जिसकी मानिटरिंग मुख्यालय स्तर पर की जा रही है। मामले की जानकारी ट्रांसमिशन कंपनी के प्रबंध निदेशक अशोक कुमार ने दी है।
 
                अशोक कुमार ने बताया कि सूदूर ग्रामीण वनांचलों तक गुणवत्ता पूर्ण बिजली पहुंचाने को लेकर विद्युतकर्मी कोरोना संक्रमण काल में भी मुस्तैदी से काम कर रहे हैं। इसी कड़ी में रायपुर क्षेत्रा के मगरलोड से गरियाबंद तक खींची गई 132 किलोवॉट की 35 किलोमीटर लम्बी अतिउच्चदाब (ईएचटी) लाईन को सफलतापूर्वक पारेषण किया गया है। इससे 225 गांव के रहवासियों को लाभ मिलेगा। यह लाइन गरियाबंद जिले के लिए  “लाइफ लाइन” की भांति वरदान सिद्ध होगी।
 
    आगे श्री कुमार ने जानकारी दी कि वर्तमान में गरियाबंद क्षेत्र में एकमात्र 132 केव्ही ईएचटी पारेषण लाईन थी। लाइन घने जंगल से होकर जाती थी। सघन वनांचल होने के कारण आंधी-तूफान जैसे कारणों से विद्युत व्यवधान होने की स्थिति में विद्युत आपूर्ति लंबे समय तक प्रभावित हो जाती थी। लाईन से बिजली सप्लाई होने से अब 132 केवी की दो ईएचटी लाईन हो गई है। जिससे व्यवधान होने की आशंका नहीं के बराबर है। एक लाईन में व्यवधान आने पर दूसरी लाईन से आसानी से विद्युत आपूर्ति की जा सकेगी। दो ईएचटी लाइन होने से 225 गांवों में लो-वोल्टेज की समस्या का भी निदान होगा।
 
प्रदेश में 13124 सर्किट किलोमीटर ईएचटी नेटवर्क
 
               एमडी कुमार ने  बताया कि राज्य शासन की मंशानुरूप गांव और किसानों के विकास को प्राथमिकता में रखते हुए विद्युत विस्तार तेजी से किया जा रहा है। प्रदेश में अतिउच्च दाब लाईनों की लंबाई बढ़कर 13 हजार 124 सर्किट किलोमीटर हो गयी है। राज्य गठन के समय मात्र 5205 सर्किट किलोमीटर थी।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...