अभिभावकों की खुली धमकी..अब पानी सिर से ऊपर..अब होगी सड़क की लड़ाई

कोरबा—कोरबा में अभिभावकों ने  निजी स्कूल़ों के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। अभिभावक संघ ने बताया कि निजी स्कूल संचालक लगातार नियमों, कानूनों का उल्लघंन कर रहे हैं। पालकों को लगातार मैसेजों और  फोन कर निजी स्कूल मनमानी फीस जमा करने को लेकर दबाव बना रहे हैं। शिकायत के बाद भी शिक्षा अधिकारी और प्रशासन कोई सख्त कदम नहीं उठा रहा है।
 
              कोरबा में अभिभावक संघ अध्यक्ष और कोषाध्यक्ष मो. न्याज नूर आरबी ने बताया कि दैनिक समाचार पत्रों में प्राइवेट स्कूल मैनेजमेंट एसोसिएशन के नाम से वैधानिक सूचना प्रकाशन कराया गया है। सूचना में बताया गया है कि फीस जमा नहीं होने पर बच्चों को ऑनलाइन शिक्षा से वंचित कर दिया जाएगा। न्याज नूर ने बताया कि निजी स्कूल संचालकों की खुलेआम दादागिरी को देखने के बाद भी जिला प्रशासन मौन है। निश्चित रूप से यह गलत है। 
 
               न्याज नूर ने बताया कि समाचार पत्रों में प्रकाशित सूचना के बाद पालकों का सब्र टूट गया है। हमने थाना कोतवाली पहुंचकर स्कूल प्रबंधन के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की है। किसी बच्चे को शिक्षा से वंचित करने की धमकी देना शिक्षा अधिकार अधिनियम और भारतीय संविधान के अनुच्छेद 21ए का खुला उल्लंघन है।
 
            नूर  आरबी ने बताया कि बाल अधिकार संरक्षण अधिनियम 2005 की धाराओं के तहत यह विज्ञापन कानूनों का खुला उल्लघंन करता है। जिला शिक्षा अधिकारी के संरक्षण में निजी स्कूल एसोसिएशन मनमानी कर रहे हैं। अब खुल्लम खुल्ला धमकी देने पर उतारू हो गए हैं।
 
             कोरबा पैरेंट्स एसोसिएशन के सदस्यों ने कोतवाली पहुंच कर विज्ञापन प्रकाशित करने वाले व्यक्तियों के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध कर कार्रवाई की मांग की है। संघ के कोषाध्यक्ष मो. न्याज नूर आरबी ने बताया कि पालक संघ अब प्राइवेट स्कूलों के ज्यादती के खिलाफ कड़ा रुख अख्तियार करेगा। ऐसे लोगों के खिलाफ अब सड़क की लड़ाई लड़ेंगे। क्योंकि पानी अब सिर के ऊपर हो रहा है।
 
                 कोतवाली थाना में शिकायत करते समय कोरबा पालक संघ अध्यक्ष नूतन सिंह ठाकुर, सचिव दीपक साहू, कोषाध्यक्ष मो. न्याज नूर आरबी, संरक्षक रवि चंदेल, सह सचिव सरवर हुसैन खान, मीडिया प्रभारी सत्या जयसवाल, विजेंद्र जायसवाल, भरत रोहरा, विनय मोदी, हरभजन लाल एवं दर्जनों पालक गण उपस्थित थे। 
loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...