युवाओं ने कहा बन्द करें अत्याचार.. इन्हें भी होता है दर्द..किया प्रदर्शन

बिलासपुर— शहर के जागरूक युवाओं की टीम ने आज नेहरू चौक में जीव जन्तुओं की सुरक्षा को लेकर मौन प्रदर्शन किया। इस दौरान युवकों ने मूक जीव जन्तुओं पर हो अत्याचार को लेकर पीड़ा जाहिर की। तपेश शर्मा ने बताया कि जानवर और इंसान के दर्द में अन्तर नहीं होता। अन्तर सिर्फ अभिव्यक्ति की होती है। निश्चित रूप से जानवर अपनी पीड़ा को जाहिर करने में अक्षम होते हैं। उनकी पीड़ा को हमें ना केवल महसूस करना होगा। बल्कि हमें उनकी सुरक्षा पर भी चिन्तन करना होगा।
      
                जीव जन्तु प्रेमी शहर के युवाओं की टीम ने आज तापेश शर्मा की अगुुवाई में जीव जन्तुओं पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ संघर्ष किया। तापेश ने बताया कि देश की सरकारों ने कई कानून बनाए लेकिन जानवरों पर अत्याचार रूकने की वजाय बढ़ता ही गया है। लोग पत्थर दिल होते जा रहे हैं। जिसके चलते जानवरों पर अत्याचार का दायरा भी बड़ा रूप ले लिया है।
 
               तापेश ने बताया कि हमारे धार्मिक ग्रंथों में हाथी से लेकर चीटी में समान जीव का होना बताया गया है। बड़े बड़े सन्तों ने जीव पर दया भाव रखने की बात कही है। धार्मिक ग्रंथों में हिंसा को बहुत बड़ा पाप बताया गया है। बावजूद इसके यह पाप रूक नहीं रहा है। यह जानते हुए भी कि  इंसान और बेजुबान के दर्द में कोई फर्क नहीं होता है ।
 
             तापेश ने कहा कि बेजुबान बोल नहीं सकता है। लेकिन दर्द को आसानी से समझा जा सकता है। देखने में आ रहा है कि लोग अब पत्थर से भी ज्यादा कठोर हो गए है। दया धर्म की बात तो करते हैं। लेकिन आचरण में कहीं नहीं दिखाई देती है। यद्यपि कानून में समानता की बात कही गयी है। 
 
                         तापेश ने बताया कि पिछले कुछ समय में  राजेंद्र नगर, इमली पारा, तिलक नगर में 29 और 30 अगस्त को अलग-अलग समय पर बेजुबान जीवों के खिलाफ कई घटनाएं सामने आई हैं। लोगों ने जमकर इन पर जमकर अत्याचार किया है। एक जीव की तो पत्थर से मार मार कर मौत के घाट उतार दिया गया।
 
            तापेश ने बताया कि हमें जागरूक होने की आवश्यकता है। हमें भी कानून के साथ चलना चाहिए।  लोगों में यही जागरूकता फैलाने के लिए हम साथियों ने मौन प्रदर्शन का कदम उठाया है। यह अभियान लगातार समय समय पर चलता रहेगा।
 
                   नेहरू चौक में बेजुबानों के समर्थन में धरना प्रदर्शन स्थल पर अनुज, दीपांशु, चेतना, प्रियंका, आशीष, राहुल, युवराज, इबरार, सुभम, हर्ष, नवीन, कृणाल, नीरज और राहुल मनिकपुरी समेत कई युवा मौजूद थे। 
loading...
loading...

Comments

  1. By Mahendra

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...