सुलझ गयी दोहरे हत्याकाण्ड की गुत्थी..दिलजले ने की हत्या..सगाई टूटने से था नाराज..मां और बेटे को उतार दिया मौत के घाट

बिलासपुर—- जिला पुलिस ने 48 घंटे के अन्दर सकरी थाना क्षेत्र के हाउसिंग बोर्ड कालोनी में  दोहरे हत्याकाण्ड की गुत्थी को सुलझा लिया है। आरोपी ने पकड़ में आने के बाद गुनाह भी कबूल कर लिया है। पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि वह महिला से प्यार करता था। उसने जून महीने में उसकी सगाई कोतोड़वा दी। जिसके चलते उसने मां और बेटे को मौत के घाट उतारा है।

            जानकारी हो कि दो दिन पहले शाम को हाउसिंग बोर्ड कालोनी में पुलिस को दोहरे हत्याकाण्ड की जानकारी मिली। मामले की जानकारी मृतिका के पति रामेश्वर कौशिक ने सकरी पुलिस को दी। रामेश्वर ने बताया कि वह सकरी निगम जोन में इलेक्ट्रिशियन का काम करता है। शाम को आया तो पत्नी और बेटे की किसी ने हत्या करने की जानकारी मिली। 

टीम को कप्तान का आदेश

             पंचनामा कार्रवाई के बाद पुलिस कप्तान ने मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपी को तत्काल पकड़ने का आदेश दिया। एडिश्नल एसपी उमेश कश्यप और सीएसपी आरएन यादव के साथ थानेदार रविन्द्र यादव को हत्या  की गुत्थी सुलझाने की जिम्मेदारी दी।

                      जांच पड़ताल के दौरान पुलिस को जानकारी मिली कि आरोपी संजू वस्त्रकार का मृतिका के घर आना जाना था। शक के आधार पर पुलिस ने आरोपी संजू वस्त्रकार की पतासाजी कर मोबाइल नम्बर हासिल कर पता लगाना शुरू किया।

लगातार बदल रहा था लोकेशन

          एडिश्ननल एसपी उमेश कश्यप ने बताया कि आरोपी का मोबाइल लोकेशन लगातार बदल रहा था। इसी दौरान सायबर सेल ने जानकारी दी कि आरोपी रायपुर से  बिलासपुर की तरफ आ रहा है। पुलिस ने आरोपी का पीछा करना शुरू कर दिया। इसी बीच आरोपी को सकरी स्थित बस स्टैण्ड में धर दबोचा गया। 

सगाई टूटने से था नाराज

                  आरोपी को पकडकर कड़ाई से पूछताछ की गयी। अन्त में टूट गया। संजू वस्त्रकार ने बताया कि महिला से उसका पिछले दो साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। पिछले जून में उसकी सगाई हुई थी। महिला को पसंद नहीं आया। उसने लड़की के घर जाकर सगाई तोड़वा दी। इसके बाद वह बार बार बरबाद करने की धमकी देने लगी

बैग में छिपाकर रखा कुल्हाड़ी

                 आरोपी संजू ने पुलिस को बताया कि घटना के एक दिन पहले वह रायपुर गया। दूसरे दिन यानि 5 सितम्बर को जीजा की बाइक लेकर सकरी आया। इसके बाद हाउसिंग बोर्ड कालोनी पहुंचकर रामेश्वर कौशिक के घर का दरवाजा खुलवाया। और बैग में रखी कुल्हाड़ी को दरबाजे के पीछे छिपा दिया।

मां बेटे को उतारा मौत के घाट

          एडिश्नल एसपी ने बताया कि संजू वस्त्रकार मृतिका के अन्दर पहुंचकर बातचीत करने लगा। साथ ही साथ में टीवी भी देखा। इस दौरान उसने पुराने प्रेम प्रसंग को लेकर बातचीत की। इसी बीच दोनों में सगाई तोड़ने को लेकर झगड़ा हो गया। पानी पीने का बहाना बनाकर दरवाजे के पास पहुंचा। मौके पर बैग में रखी कुल्हाड़ी से महिला के सिर पर दो तीन बार जानलेवा हमला कर दिया। और महिला चिल्लाते हुए गिर गयी। इसी समय मृतिका का लड़का  अरमान कौशिक भी पहुंच गया। और माजरा देखकर भागने लगा। उसे पकड़कर सिर पर कुल्हाड़ी से जानलेवा हमला कर दिया। मारने के बाद रायपुर के लिए रवाना हो गया। बायपास के पास पहने हुए कपड़े और कुल्हाड़ी को फेंक दिया। और रायपुर में एक रात रहा। 

              पूछताछ के बाद कुल्हाड़ी और कपड़ों को पुलिस ने जब्त कर लिया है।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...