अनलॉक के बाद कर रहे हैं यात्रा तो संक्रमण से बचने में मददगार होंगे ये टिप्स,बरतिए यह सावधानी,देखें सूची

विधान परिषद , सभापति , कोरोना टेस्ट, पॉजिटिव, मुख्यमंत्री ,सचिवों , सैंपल,corona,nitish kumar,corona latest,update,covid 19, corona news,

रायपुर।अनलॉक फेज चार में सरकार ने परिवहन पर लगी रोक हटा दी हैं। धीरे- धीरे देश के ज्यादार शहरों में बंद सिटी बस सेवा, बड़े शहरों में मेट्रो सेवा पुनः प्रारम्भ होगी, जिससे देश भर में लाखों लोगों को यात्रा में भारी राहत मिलेगी । हालाँकि, पहले की तुलना में इस बार बस एवं मेट्रो की यात्रा में महत्वपूर्ण अंतर देखने को मिलेंगे । अनलॉक फेज 4 में सरकार ने 7 सितंबर से सभी नौ शहरों में मेट्रो सेवा को नई गाइडलाइंस जारी कर चलाने की अनुमति दी है। रेलवे ने भी 12 सितंबर से 80 नई स्पेशल ट्रेन्स चलाने का फैसला लिया है । यात्रा करते समय यात्रियों को पर्याप्त दूरी और तमाम जरूरी नियमों का कड़ाई से पालन करना होगा।अनलॉक 4 में सिटी बस सेवा को राज्य अपने सुविधा अनुसार श्रेणीबद्ध तरीके से चालू कर सकते हैं। जिसके तहत कई राज्यों ने अंतर-राज्यीय के साथ साथ सिटी बस सेवा भी खोलने की घोषणा कर दी है।तमिलनाडु सरकार ने चेन्नई में सिटी बस सेवा की अनुमति दे दी है। ज्ञातव्य हो कि 1 जून से ही राजधानी चेन्नई सहित 4 जिलों को छोड़कर बाकी पूरे प्रदेश में बस सेवा प्रारम्भ कर दी गयी थी। अधिकारियों का कहना है कि लोग सार्वजनिक परिवहन सेवाओं का उपयोग फिलहाल बेहद कम कर रहे हैं। गोवा ने भी राहत देते हुए, घरेलू उड़ान के लिए यात्रियों से अब कोरोना नेगेटिव सर्टिफिकेट की अनिवार्यता खत्म कर दी है।मीडिया रिपोर्ट्स अनुसार महाराष्ट्र सरकार ने भी 2 सितंबर के बाद, लोगो और सामान के अंतर राज्यीय आवागमन को खोल दिया है, और ई-पास की बाध्यता भी हटा दी है।दिल्ली में सिटी बस सेवा पहले ही अपनी क्षमता से आधी सवारियों के साथ चालू है।मध्यप्रदेश ,राजस्थान ,पंजाब , ,असम सहित अनेक राज्यों में बस सेवाएं पहले से बहाल हो चुकी हैं।परिवहन सेवाओं के अलावा सरकार ने धार्मिक स्थल,पार्क, स्टेडियम और साप्ताहिक बाजार आदि खोलने की भी अनुमति दे दी है।लेकिन हमें मालूम हो कि जैसे जैसे सरकार सभी उपक्रमों को पुनः खोल रही है ,उसी अनुपात में कोरोना के मामले भी बढ़ रहे हैं।

ताजा आंकडों के अनुसार पिछले सात दिनों में छः लाख से अधिक नए मामले आ चुके हैं। खबर लिखे जाने तक भारत में कुल कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 43 लाख को पार कर गयी है, और पिछले 24 घण्टों में 91 हज़ार नए लोग संक्रिमत हुए और 1129 लोगों की मौत हो गयी है। ये आंकड़े अपने आप ही कोरोना पर हमारे नियंत्रण की कहानी बयां कर रहे हैं।

विशेषज्ञों का कहना है कि covid-19 अभी भी उतना ही असरदार है और इसलिए यह हम सभी का कर्तव्य है कि सुरक्षा, सोशल डिस्टनसिंग और व्यक्तिगत स्वच्छता पर सभी सावधानियों और दिशानिर्देशों का सख्ती से पालन करके कोरोना को दूर रखा जाए।

इस सबके बावजूद यात्रा के दौरान कोरोना से बचाव के कुछ उपाय हैं जिनके पालन से हम खुद को सुरक्षित रख सकते हैं। यात्रा करते समय हमें किस चीज का ध्यान करना चाहिए और किस चीज का ध्यान नहीं करना चाहिए इसकी सूची नीचे है।
क्या करना चाहिए :
● अनावश्यक संपर्क से बचने के लिए बस टिकट ऑनलाइन बुक करें
● हमेशा अपने फेस मास्क और हैंड सैनिटाइज़र लेकर चलें
●सुनिश्चित करें कि किसी भी यात्रा से पहले आपका तापमान सामान्य हो
●बस के अंदर हमेशा अपने मास्क पहनें और सुनिश्चित करें कि आप अपनी नाक को अच्छी तरह से कवर कर सकें
●नियमित रूप से एक बस में प्रवेश करने से पहले और बाहर निकलने के बाद, हाथों को नियमित रूप से साफ करना सुनिश्चित करें
● छींकते और खांसते समय कंधे की ओर मुँह करें।
● यदि आप के पास टिश्यू खत्म हो गए हैं तो छींक या ऊपरी आस्तीन में खाँसे
● लंबी दूरी या रात भर की यात्रा के लिए अपने खुद के लिनन, कंबल और पानी की बोतलें लाएं
● Aarogya सेतु ऐप डाउनलोड करें (अत्यधिक अनुशंसित)
● आप जिस राज्य से यात्रा कर रहे हैं और जिस राज्य की यात्रा कर रहे हैं, उसके द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देशों का पालन करें।
क्या नहीं करना चाहिए :
●यदि आप अस्वस्थ महसूस कर रहे हैं या कोविड-19 के लक्षण प्रदर्शित कर रहे हैं तो यात्रा न करें
● अपने चेहरे, नाक और मुंह को अक्सर न छुएं
● जब तक आवश्यक न हो बस के अंदर अपना मास्क न उतारें
●यदि संभव हो तो सार्वजनिक स्थल पर स्विच, हैंडल आदि न छुएं।
● बस के अंदर टिश्यू/ डिस्पोजेबल मास्क / दस्ताने या किसी अन्य सुरक्षात्मक गियर को न छोड़ें

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...