कांग्रेस ने कहा-CM भूपेश बघेल ने निभाया वादा,साढ़े चौदह हजार से अधिक शिक्षकों की होगी जल्द नियुक्ति

रायपुर-छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता एवं सचिव विकास तिवारी ने प्रदेश सरकार द्वारा 14580 शिक्षकों की नियुक्ति का रास्ता खोलने पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और कांग्रेस सरकार को आभार व्यक्त किया है और कहा है कि शिक्षकों की नियुक्ति के बाद लगातार प्रदेश में शिक्षा के स्तर में सुधार होगा और दूरस्थ क्षेत्रों में रहने वाले गरीब एवं मध्यवर्गी बच्चों को सीधा फायदा मिलेगा। कांग्रेस पार्टी ने चुनाव के समय यह वादा किया था कि प्रदेश में रिक्त शिक्षक पदों में सीधी भर्ती की जाएगी और शिक्षा के स्तर एवं गुणवत्ता में सुधार के लिए कार्य किया जाएगा जो कि इस आदेश के बाद द्रुत गति से संपादित होगा।कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने भारतीय जनता पार्टी और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह पर निशाना साधते हुए कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के इस आदेश के बाद पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह और भारतीय जनता पार्टी को प्रदेश की जनता से माफी मांगना चाहिये क्योंकि पंद्रह वर्षों के कुशासन के कारण प्रदेश में लगातार शिक्षकों की कमी थी जिसके की कारण 2 लाख से अधिक गरीब और मध्यमवर्गीय बच्चों ने अपनी पढ़ाई लिखाई छोड़ दिये थे इसके सीधा जिम्मेवार पूर्वर्ती रमन सरकार ही थी।

शिक्षा विभाग में भारी घोटाला करने वाली पूर्ववर्ती रमन सरकार का एकमात्र धेय कमीशनखोरी करना था जिसके कारण शिक्षकों की भर्ती को लटका कर रखा गया था छत्तीसगढ़ राज्य शिक्षा के क्षेत्र में पिछड़ा रहा जिसका श्रेय भी पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह और भारतीय जनता पार्टी को जाता है। भाजपा को बताना चाहिए कि किन कारणों से पंद्रह सालो में हजारो पदों में शिक्षकों की नियुक्ति नहीं की गई थी जिसके कारण लाखों बच्चे स्कूल छोड़ने को मजबूर हो गए थे।

कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ रमन सिंह से मांग की है कि अब समय आ गया है कि केंद्र में जो तीस लाख रिक्त पद हैं उनमें कम से कम तीन लाख पदों पर प्रदेश के पढ़े-लिखे बेरोजगारों को रोजगार दिलाने का पहल उन्हें करना चाहिए पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह को तत्काल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर यह मांग भी करनी चाहिए कि जिस प्रकार कोरोना कोविड-19 महामारी के कठिन समय मे प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल ने अपना वादा निभाया और 14 हजार से अधिक शिक्षको को की सीधी भर्ती हेतु मार्ग प्रशस्त किया उसी प्रकार केंद्र की मोदी सरकार को भी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से सीख लेते हुए केंद्र में रिक्त पदों पर तत्काल नियुक्ति प्रारंभ कर देनी चाहिये।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...