जोगी ने कहा कांग्रेस पर सामन्तों का कब्जा

IMG-20160106-WA0008रायपुर— कांग्रेस पार्टी से निष्कासित होने के बाद मरवाही विधायक अमित जोगी ने कहा कि मेरे परिवार के खिलाफ एक तरफा पीसीसी की कार्रवाई से जाहिर हो गया है कि सामन्ती और जमींदार प्रवृत्ति के लोगों ने कांग्रेस को हाइजेक कर लिया है। पीसीसी की कार्रवाई पर अफसोस जाहिर करते हुए कहा कि इससे आम जनता में संदेश ठीक नहीं गया है। इसका खामियाजा कांग्रेस को भारी पडने वाला है।

                                     कांग्रेस निष्कासन के बाद अमित जोगी ने कहा कि सांमतवादी सोच के सामने एक बार फिर गांव का करीब,दलित और पीड़ित आदिवासी हार गया है। पार्टी को सामंतों ने हाईजैक कर लिया है। उन्होंने कहा एक तरफा कार्रवाई से प्राकृतिक न्याय का उल्लंघन हुआ है। अमित जोगी ने बताया कि आरोपों की जांच और पुष्टी किये बिना निष्कासन से जाहिर होता है पीसीसी अध्यक्ष को उनसे व्यक्तिरूप से खतरा था। इसलिए उन्होंने अविवेकपूर्ण और अन्यायपूर्ण फैसला सुनाते हुए मुझे पार्टी से बाहर कर दिया।

                                मरवाही विधायक ने कहा कि मैं सामन्तशाही से डरने वाला नहीं हूं। मै फाइटर का लड़का हूं। कहीं ज्यादा ताकतवर होकर बेसहारों,गरीबों की आवाज बनकर काम करूंगा। मुझे अब कोई नहीं रोक सकता है। जोगी ने कहा कि मेरे खिलाफ बदले की नियत से कार्रवाई की गयी है। मैं इस निर्णय के खिलाफ अपील करूंगा। विश्वास है कि अपील में मेरी ही जीत होगी।

                                                    सीजी वाल से दूरभाष पर अमित जोगी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी की बुनियाद माने जाने वाले राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को मैने अपना आदर्श माना है। मैं उनके विचारों पर चलूंगा। भले ही मुझे लाख परेशानियों का सामना क्यों ना करना पडे। अमित जोगी ने महात्मा गांधी की कही पंक्तियों को दुहराते हुए कहा कि— पहले वो तुम्हारी उपेक्षा करेंगे,फिर वो तुम पर हसेंगे। फिर वो तुमसे लड़ाई करेंगे,मगर अंत में जीत तुम्हारी ही होगी।।

सामन्ती कौन..

 अभय नारायण राय ने कहा कि अमित जोगी का जन्म अमेरिका में हुआ। पिता आई.ए.एस. कलेक्टर, राज्य सभा, लोक सभा के सांसद थे।  छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री थे। फिर भी कहते है कि संगठन में सामन्ति विचार के लोग गरीब आदिवासी के प्रति बदले की भावना रखते हैं।  प्रश्न उठता है जिनका जन्म पढ़े लिखे सम्पन्न परिवार में हो वह कैसे अपने आप को शोषित कह सकता है है? अभय ने कहा कि अमित जोगी मिडिया में बयान दे रहे है कि सामान्ती विचार के लोग मेरे साथ अन्याय किये, इसका मतलब प्रदेश कांग्रेस कमेटी का गठन राष्ट्रीय अध्यक्षा सोनिया गांधी के निर्देश पर किया गया है। तो क्या अमित जोगी का यह कथन सोनिया गांधी के निर्णय पर प्रश्न चिन्ह उठाने का है? निश्चित ही हताशा और बड़बोलेपन को व्यक्त करता है।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...