जोगी परिवार पर राजनैतिक निशाना–जोगी

IMG-20160111-WA0006बिलासपुर– जिस अंतागढ़ टेप को लेकर निष्कासन को लेकर निष्कासन और अनर्गल बयानबाजी की जा रही है। अब उसी टेप पर संशय उठने लगा है। फिरोज सिद्धकी ने दावा किया है कि मेरी आवाज है या नहीं इसकी मुझे कोई जानकारी नहीं है। ना ही मैने अपनी आवाज का होना बताया है। ऐसे में पीसीसी अध्यक्ष की कार्रवाई संदेह के घरे में है। क्या अब पीसीसी अध्यक्ष इस मामले में कुछ बोलेंगे। यह बातें रायपुर रवाना होने से पहले पत्रकारों से पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कही।

           पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कहा कि जिस टेप की आवाज को लेकर मरवाही विधायक अमित जोगी को कांग्रेस अध्यक्ष ने निष्कासित किया है। अब वहीं टेप संदेह के घेरें में है। जोगी ने कहा कि फिरोज सिद्धिकी के बयान के बाद पीसीसी अध्यक्ष ने मरवाही विधायक को कांग्रेस से निष्कासित किया। निष्कासन के समय बघेल ने कहा था कि फिरोज ने अपनी आवाज का होना स्वीकार कर लिया है। लेकिन अब फिरोज सिद्धिकी टेप में अपनी आवाज होने से इंकार कर दिया है। ऐसे में पीसीसी अध्यक्ष की कार्रवाई संदेह के घेरे में है।

                             जोगी ने कहा कि मीडिया में फिरोज सिद्धिकी का बयान आ रहा है कि मैने नहीं कहा था कि टेप में मेरी आवाज है। ऐसे में प्रश्न उठता है कि जब फिरोज सिद्धीकी ने अपनी आवाज होने से इंकार कर दिया है तो अमित जोगी पर उसी आवाज की शर्त पर निष्कासन की कार्रवाई क्यों। जोगी ने कहा कि अमित जोगी या जोगी परिवार को जानबूझकर निशाना साधा जा रहा है। पीसीसी अध्यक्ष को बताना होगा कि क्या अब अमित जोगी का निष्कासन वापिस लेंगे। क्योंकि उन्होंने जिस आधार पर कार्रवाई की वह टाय-टाय फिस्स हो चुकी है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...