सम्पत्ति कर के विरोध में नुक्कड़ नाटक

IMG-20160205-WA0022रायपुर—राज्य की भाजपा सरकार के सम्पत्ति कर वृद्धि के खिलाफ कांग्रेस ने नुक्कड़ नाटक कर जनता को बताने के प्रयास किया कि सरकार उनका शोषण कर रही है। शहर अध्यक्ष विकास उपाध्याय ने सरकार पर 50  प्रतिशत सम्पत्ति कर वृद्धि के खिलाफ  जनता को गुमराह करने का आरोप लगाया है।

                 आज रायपुर शहर कांग्रेस ने सम्पत्ति कर खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन किया। जगह-जगह नुक्क़ड नाटक का आयोजन कर जनता को बढ़े हुए कर की जानकारी दी। इस दौरान कांग्रेसियों ने बताया कि पचास प्रतिशत सम्पत्ति कर बढ़ने से जनता पर क्या प्रभाव पड़ेगा। विकास उपाध्याय ने बताया कि भाजपा सरकार के मंत्री राजेश मूणत का सम्पत्ति कर वृद्धि के पक्ष में दिया गया बयान गले से नीचे नहीं उतर रहा है।

                      उन्होंने कहा कि जब राज्य में 19 सालो तक सम्पत्ति कर में बढ़ोत्तरी किये बिना नगरीय निकायों में विकास के काम हो रहे हैं । जनता को मूलभूत सुविधाएं भी मिल रही है। बावजूद इसके आकाश छूती महंगाई और सूखे की मार से परेशान जनता के ऊफर पचास प्रतिशत सम्पत्ति कर वृद्धि करना सरासर गलत है।

               कांग्रेस नेताओं ने कहा कि पिछले 12 साल से प्रदेश में भाजपा की सरकार है। इन बारह सालो में जलकर 720 रूपये से बढ़ाकर 2400 रूपये हो गया। जनता के ऊपर समेकित कर रोपित कर वसूल किया। राज्य सूखे और अकाल की चपेट में है। फसल चौपट हो गयी है। किसान परेशान है। परेशान किसान आत्महत्या कर रहे हैं।

              कांग्रेसियों के अनुसार छत्तीसगढ़ के अधिकतर शहरो में निवासरत आधी से ज्यादा आबादी का सबंध सीधे खेत खलियानों से  है। जो आकाल से परेशान हैं। इन सब परिस्थितियों से वाकिफ राज्य सरकार के मंत्री राजेश मूणत को जनता के परेशानियो को नजर नहीं आ रहा है। कांग्रेस ने नुक्कड़ नाटक के जरिए राज्य सरकार की तुगलकी फरमान का विरोध किया।

                   विकास उपाध्याय ने कहा राज्य की जनता के बीच लगातार नुक्कड़ नाटक के माध्यम से भाजपा सरकार और मंत्री राजेश मूणत के खिलाफ प्रदर्शन किया जाएगा।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...