जोगी के सुर में उइके ने भी मिलाया सुर

Ram Dayal Uike-1बिलासपुर–मरवाही विधायक अमित जोगी और बिल्हा विधायक सियाराम कौशिक के बाद अब पाली तानाखार विधायक राम दयाल उइके ने भी जोगी के सुर में सुर मिलाया है। रामदयाल उइके ने बढे हुए वेतन को जनहित कार्यों में लगाने का एलान किया है। पैतृक ग्राम बोकरामुड़ा विधानसभा मरवाही के पास एक प्राकृतिक कच्चे कुंएं को जीर्णोद्धार करने की बात उइके ने कही है। कुंएं का उपयोग आसपास के 12 गाँव के लोग करते हैं। उइके का विधानसभा क्षेत्र भी इसी क्षेत्र से लगा हुआ है। उइके ने 10 हज़ार रुपये वेतन से निकालकर कच्चे कुंए की मरम्मत के लिए दिया। उन्होंने कहा कि बाकी 25 हज़ार रुपये अपने विधानसभा क्षेत्र पाली तानाखार में जल स्त्रोतों के जीर्णोद्धार पर करेंगे।

                        उइके ने बताया कि बढ़े हुए वेतन को आमजन में खर्च करने पर उन्हें खुशी होगी। राज्य की आर्थिक और सामाजिक स्थिति को देखते हुए वर्तमान परिस्थितियों में वेतन वृद्धि को स्वीकारने कहीं अच्छा है कि समाज में बदलाव लाना। उन्होने कहा कि 117 तहसील अकालग्रस्त हैं। भयंकर सूखे के बाद फसल बरबाद हो चुकी है। ग्रामीण तथा वनांचल में पानी की विकराल समस्या है। इसलिए मैने निर्णय लिया है कि इस वर्ष बढ़ा हुआ वेतन जनहित के जरुरी कार्यों में लगाऊँ।

                  बोकरामुड़ा में कुए के जीर्णोद्धार कार्यक्रम में मरवाही विधायक अमित जोगी ने भी श्रमदान किया। अमित जोगी ने कहा कि अपने चाचा राम दयाल उइके के इस पहल का सम्मान करता हूं।  सूदूर ग्रामीण वनांचल क्षेत्र के साधारण परिवार से आने वाले विधायक सियाराम कौशिक और रामदयाल उइके की  सराहनीय पहल उन 68 करोड़पति विधायकों के लिए सबक है…जो सूखाग्रस्त किसानों की दशा को नज़रअंदाज कर अपने बढे हुए वेतन का मासिक 35 हज़ार रुपये देने को तैयार नहीं है।

                             अमित जोगी ने कहा कि उन्हें मिलाकर अब तक तीन विधायकों ने अपने बढे हुए वेतन को अस्वीकार करते हुए जनहित के कार्यों में लगाने का निर्णय लिया है। पारदर्शिता लाने के लिए आवश्यक है कि लोग देख सकें कि हर महीने बढे हुए वेतन के रुपयों को कहां खर्च किया जा रहा है। इसका हिसाब किताब रखा जाएगा। जल्द ही वेबसाइट लांच करेंगे। लोगों को विधायकों के बढे हुए वेतन की राशि से हर माह कितना और कहाँ काम हो रहा है इसकी जानकारी हो जाएगी। अमित जोगी ने उम्मीद जताई कि कार्यों को देखकर एक दिन सभी करोड़पति विधायक अपने बढे हुए वेतन का त्याग जनहित में करेंगे।

      विधायक वेतन बृद्धि का मामला लगातार वायरल होता जा रहा है। जोगी के पदचिन्हों पर चलते हुए सियाराम ने दगौरी में महीने के 35 हजार रूपए जनहित में लगाने का एलान किया था। अब जोगी के पारिवारिक सदस्य तानाखार विधायक ने भी जोगी के पदचिन्हों पर चलने का एलान किया है। उइके के एलान के बाद जोगी ने एक बार फिर करोड़पति विधायकों पर निशाना साधते हुए भूपेश और टीएस सिंहदेव पर कटाक्ष किया है। कुल मिलाकर अब सेवा के बहाने अमिित जोगी समर्थक विधायक कुनबा खुलकर सामने आने लगा है। इस बहाने जोगी का शक्ति प्रदर्शन भी चल रहा है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...