एसईसीएल ने किया बाबा साहेब को याद

बिलासपुर— एसईसीएल में डाॅ. भीमराव अम्बेडकर जयंती समारोह का समापन वसंत विहार स्थित रविन्द्र भवन सभागार में हुआ। निदेशक कार्मिक डा. आर.एस. झा के मुख्य आतिथ्य, महाप्रबंधक कार्मिक /प्रशासन संजीव कुमार, महामंत्री अ.जाति-जन. संगठनों का अखिल भारतीय परिसंघ ए. विश्वास, महासचिव सिस्टा राम सिंह के विशिष्ट आतिथ्य, विभिन्न विभागाध्यक्षों, श्रमसंघ प्रतिनिधियोंआ, एससी/एसटी एसोसिएशन के पदाधिकारियों, महिलाओं, बच्चों की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ ।
कार्यक्रम के प्रारंभ में मुख्य अतिथि ने गौतम बुद्ध और बाबा साहेब के चित्र के समीप दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। गौतम बुद्ध और बाबा साहेब के चित्र पर माल्यार्पण किया। विभागाध्यक्षों, श्रमसंघ पदाधिकारियों, एससी/एसटी एसोसिएशन के पदाधिकारियों, अधिकारियों, कर्मचारियों ने बारी-बारी से गौतम बुद्ध एवं बाबा साहेब की चित्र पर पुष्प अर्पित किया।

                     मुख्य अतिथि निदेशक कार्मिक डा.आर.एस. झा ने कहा कि बाबा साहेब डाॅ. भीमराव अम्बेडकर के समाजोन्मुख सोच के परिणामस्वरूप भारतीय समाज में एक नयी चेतना का विस्तार हुआ। समाज में काफी सकारात्मक बदलाव आए । हमारा कर्तव्य बनता है कि उनके द्वारा समाजोद्धार के लिए जो भी संदेश, विचार, सिद्धांत हमें बताए गए हैं उसे केवल जयंती के दिन याद नहीं करें बल्कि सदा याद रखते हुए पूरे वर्ष भर अपने दिनचर्या में अपनाएॅं । इससे समाज सहित देश का विकास होगा । उन्होंने कहा बाबा साहेब के जीवन से हमें सीख मिलती है कि परिस्थितियाॅं कितनी ही विपरीत क्यों न हो प्रतिभाएॅं उभरकर सामने आती है। सच्चाई और अच्छाई की हमेशा जीत होती है। अगर लगन और मेहनत हो तो किसी काम में सफलता असंभव नहीं है ।

                      इस अवसर पर ए. विश्वास, महामंत्री अ.जाति-जन. संगठनों के अखिल भारतीय परिसंघ ने कहा कि बाबा साहब एक महान विचारक थे। अपने जीवनकाल में इस देश को विकास की दिशा दिखाई । बाबा साहेब का जन्म ऐसे समय में हुआ जब समाज का एक बड़ा तबका मानवीय हकों से वंचित था। बाबा साहेब ने विपरीत परिस्थितियों के बावजूद समाजोद्धार के लिए उन्होंने कार्य किया ।

              राम सिंह, महासचिव सिस्टा ने कहा कि बाबा साहेब सम्पूर्ण मानव समाज के प्रेरणास्त्रोत हैं ।  वे हमारे विशाल देश के संविधान निर्माताओं में से एक हैं । बाबा साहब समाज सुधारक थे। उन्होंने समाज में कुरीतियों को खत्म करने का संदेश दिया। लोगों में समता-समभाव-आपसी भाईचारा का पाठ पढ़ाया।

पुरस्कार वितरण
मुख्य अतिथि निदेशक कार्मिक डा. आर.एस. झा ने आयोजित निबंध प्रतियोगिता, डी.ए.व्ही स्कूल में आयोजित निबंध और चित्रकला प्रतियोगिता विजेताओं को पुरस्कृत किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *