भूपेश को करना होगा पश्चाताप…अमित जोगी

4(9)बिलासपुर–  मरवाही विधायक अमित जोगी ने आज पामगढ़ पहुंचकर बाबा साहेब की प्रतिमा स्थल को साफ़ किया। जोगी ने प्रतिमा को पानी से धोया और  दीप प्रज्वलित और माल्यार्पण किया। इस अवसर पर पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी, विधायकग दिलीप लहरिया, चुन्नी लाल साहू, पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष धरमजीत सिंह,  बिलासपुर पूर्व महापौर राजेश पांडेय, जिला पंचायत अधयक्ष नंदकिशोर हरबंस, जनपद सदस्य संदीप यादव, अजय दिव्या,यूथ कांग्रेस महासचिव अशोक सोनवानी, युवा कांग्रेस अध्यक्ष संजीव खरे  अनुसूचित जाति संयोजक पप्पू बघेल उपस्थित थे।

अमित जोगी ने बताया कि वह केवल भूपेश बघेल को जताने या बताने के लिए पामगढ़ नहीं आये हैं। वे छत्तीसगढ़ में समाज के सभी वर्गों के बीच समानता, जागरूकता और एकता का सन्देश देने आये हैं । छत्तीसगढ़ में समाज को बाँटने के प्रयासों का विरोध करने आये हैं।  अमित जोगी ने भूपेश को सलाह देते हुए कहा  कि वे बाबा साहेब आंबेडकर की विचारधारा को अपनाएं । जोगी ने कहा कि जब भूपेश कांग्रेस भवन के अंदर महापुरूषों की फोटो पर माल्यार्पण बिना जूते पहने कर सकते हैं तो शिवरीनारायण में बाबा साहेब की प्रतिमा पर माल्यार्पण बिना जूता पहने क्यों नहीं कर सकते । जिस तरह राष्ट्रपिता गांधीजी की प्रतिमा के समक्ष जूते उतारकर माल्यार्पण किया जाता है उसी आदर भाव से बाबा साहेब की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया जाए। दोनों महापुरूषों ने समाज में समानता लाने और शोषित वर्ग को अधिकार दिलाने की पैरवी की थी।

जोगी ने कहा कि बाबा साहेब स्वयं प्रतिमा पूजन तथा पूजा.अर्चना के विरुद्ध थे। उन्होंने जो समाज के शोषित  वर्ग के लिए जो किया उससे सारा समाज  सम्मान करता और पूजता है। देश के सामाजिक और वैचारिक संस्कार हमें आदरणीय, सम्मानीय महापुरषों की प्रतिमा के सामने जूते.चप्पल पहन कर माल्यार्पण करने की सीख नहीं देते हैं। अमित जोगी ने कहा कि महापुरषों के समक्ष बिना जूता पहने जाना उनके प्रति अादर  का भाव रखना है। यह भाव व्यक्ति के अंदर तभी समाहित होता है जब वो उस महापुरुष का सम्मान करता हो। भूपेश ने शिवरीनारायण में बाबा साहेब की प्रतिमा पर जूते पहनकरए टिक कर खड़े रहकर निरादर का भाव दिखाया है जो दुर्भाग्यपूर्ण है।

अमित जोगी ने कहा कि वो भूपेश बघेल पर जोर.जबरदस्ती नहीं कर सकते लेकिन उनसे विनती जरूर कर सकते हैं कि जिम्मेदार पद पर रहते हुए उनके इस कृत्य से समाज के बड़े वर्ग की भावनाओं को जो ठेस पहुँची है। इसके लिए पीसीसी अध्यक्ष माफ़ी मांगे या प्रायश्चित करें।  जोगी  कहा कि भूपेश उस कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष हैं जिसके केन्द्र में महात्मा गांधी हैं। महात्मा गांधी ने सदैव उपवास को प्रायश्चित का रास्ता बताया था ।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...