नया रायपुर में आएगी प्रदेश के गाँवो की मिट्टी

IMG_20160428_212056_381रायपुर। मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने राज्य के किसानों के लिए छत्तीसगढ़ दर्शन योजना शुरू करने की घोषणा की है। उन्होंने कहा है कि इस योजना के तहत किसान  एक-दूसरे के जिले में जाकर वहां खेती के हो रहे जैविक कृषि नये प्रयोगों को देखेंगे और एक-दूसरे के अनुभवों से काफी कुछ सीख सकेंगे। उन्होंने कहा कि नई राजधानी के रूप में विकसित हो रहे नया रायपुर में छत्तीसगढ़ के हर जिले के गांवों की मिट्टी लाई जाएगी और वहां के पेड़ पौधे भी नया रायपुर में लगाए जाएंगे। दंतेवाड़ा जिले में शिक्षा के प्रमुख केन्द्र के रूप में उभरते ग्राम जावंगा और जैविक खेती के क्षेत्र में तेजी से पहचान बना रहे कारली जैसे गांवों की मिट्टी और वहां के पौधे भी नया रायपुर में लगाए जाएंगे, ताकि अगले सौ वर्षों तक लोग याद कर सकें। उन्होंने कहा कि बस्तर बहुत तेजी से बदल रहा है।

                   संपूर्ण बस्तर संभाग में विकास को लेकर जनता में काफी जागरूकता आई है। संभाग में लगभग दो हजार से तीन हजार करोड़ की सडकें बन रही हैं। बहुत जल्द बस्तर अंचल भी रायपुर की तरह विकसित इलाका बन जाएगा। मुख्यमंत्री गुरुवार को लोक सुराज अभियान के प्रथम दिवस के अंतिम पड़ाव में दंतेवाड़ा जिले के ग्राम कारली में जैविक खेती करने वाले कारली सहित आसपास के गांवों के किसानों की चौपाल को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री की यह चौपाल जैविक खेती के लिए समर्पित कारली निवासी लगभग साढ़े छह एकड़ के किसान रतिराम की अमराई में आयोजित की गई, जहां मुख्यमंत्री ने कई किसानों को आगामी खरीफ में जैविक खेती के लिए खाद और बीजों का वितरण किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *