सौगात लेकर उतरा रमन का उड़न खटोला

vikaskhand takhtpur gram sambalpuri me cm dwara chwpal lagyi gayi (21) vikaskhand takhtpur gram sambalpuri me cm dwara chwpal lagyi gayi (22)बिलासपुर—मुख्यमंत्री डाॅ. रमन सिंह का लोकसुराज अभियान का उड़न खटोला आज तखतपुर विकासखण्ड के ग्राम सम्बलपुरी में सौगातों के साथ अचानक उतरा। सीएम  ग्रामीणों से रूबरू हुए। पटवारी को 15 दिन के भीतर ग्रामीणों को नक्शा, खसरा, बी-1 की कापी निःशुल्क उपलब्ध कराने को कहा।

                               लोक सुराज अभियान तहत मुख्यमंत्री आज बिलासपुर जिला पहुंचे। सम्बलपुरी के पूर्व माध्यमिक शाला में अपनी चैपाल लगाई। साथ में नगरीय प्रशासन, उद्योग एवं वाणिज्यिककर मंत्री अमर अग्रवाल, मुख्य सचिव  विवेक ढांढ, जनसंपर्क विभाग के सचिव संतोष मिश्रा, मुख्यमंत्री के विशेष सचिव सुबोध सिंह,सांसद लखनलाल साहू, तखतपुर विधायक राजू सिंह क्षत्री भी उपस्थित थे।

                            मुख्यमंत्री ग्रामीणों की समस्याओं से रूबरू हुए। ग्राम सम्बलपुरी में श्मशानघाट बाउण्ड्रीवाॅल और शेड निर्माण की मंजूरी दी। सभी समाजों के उपयोग के लिए एक अच्छा सामुदायिक भवन बनाने के लिए 10 लाख रूपये मंजूर किया। सीसी रोड, बच्चों के खेल के लिए मिनी स्टेडियम, हाॅट बाजार के लिए दुकान और पेयजल की किल्लत को देखते हुए सोलर पंप के लिए 10 लाख देने का एलान किया।

             मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि योजनाएं जो चल रही है उसे बेहतर कैसे किया जाये, इस उद्देश्य से एक माह के लिए लोक सुराज अभियान संचालित हैं। अधिकारी गर्मी में एसी, कूलर का आनंद न लें, बल्कि गांव-गांव जाकर भ्रमण करें। अधिकारी पसीना बहायेंगें, तभी उन्हें पसीने की कीमत पता चलेगी।

बुजुर्ग महिला पंच की तारीफ

                       चौपाल में उपस्थित ग्राम की सबसे बुजुर्ग महिला पंच भगवती बाई से मुख्यमंत्री प्रभावित हुए। उन्होंने भगवती बाई से समस्या के बारे में जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने महिला की तारीफ करते हुए उसके साथ फोटो भी खिंचवाया।

निःशुल्क नक्शा, खसरा, बी-1 का वितरण–ढांढ

                                     मुख्य सचिव विवेक ढांढ ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि किसानों की समस्या को देखकर सरकार ने योजना बनाई गई है। तीन माह के भीतर हर गांव में शिविर लगाकर नक्शा, खसरा, बी-1 निःशुल्क बांटेंगे। उन्होंने खाद्यान्न गुणवत्ता के बारे में जानकारी ली। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को बुलाकर बच्चों की संख्या के बारे में पूछा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *