दो साल में जनता के साथ मजाक— अटल श्रीवास्तव

Er. Atal Shrivatstavaबिलासपुर— मोदी सरकार के दो साल पूरे होने और जश्न में डूबे भाजपाइयों पर कांग्रेस नेताओं ने एक बार फिर निशाना साधा है। पीसीसी महामंत्री अटल श्रीवास्तव ने केन्द्र में भाजपा सरकार को देश का सबसे कमजोर सरकार बताया है। अटल ने केन्द्र के मोदी सरकार के दो वर्ष पूरे होने पर मनाए जा रहे जश्न को गरीब जनता के साथ मजाक बताया है।

                          पीसीसी महामंत्री और प्रदेश के एन.एस.यू.वाई प्रभारी अटल श्रीवास ने प्रेस नोट जारी कर बताया कि चुनाव के समय महंगाई कम करने का वादा, काले धन की वापसी, भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन, पाकिस्तान को सबक सिखाने, अच्छे दिन का सपना दिखाने वाले प्रधानमंत्री ने दो साल में देश की जनता से केवल और केवल मजाक किया है। जुमले गढ़कर प्रधानमंत्री बने नरेन्द्र मोदी और उनकी सरकार ने दो साल में एक भी वायदों को पूरा नहीं किया है।

                          अटल श्रीवास्तव ने कहा है कि महंगाई चरम पर है। दाल की कीमत 200 सौ रूपये को पार गयी है। बाजार में उपभोक्ता 65 रूपए प्रति लीटर तेल खरीद रहा है। एक लीटर में राज्य और प्रदेश सरकार पैंतालिस रूपए टैक्स लेती है। यू.पी.ए. सरकार के समय अंतर्राष्ट्रीय मार्केट में पेट्रोल 115 डालर प्रति बैरल था। बावजूद इसके देश में अधिकतम 71 रूपए में एक लीटर पेट्रोल मिलता था।

          अटल ने बताया कि मनमोहन सिंह सरकार के समय डीजल और पेट्रोल के दामों भारी अंतर था। महंगाई नियंत्रण में थी। वर्तमान सरकार के वित्तमंत्री और उनकी पार्टी ने इस अंतर को खत्म कर दिया है। महंगाई आसमान छू रही है। सरकार का बाजार से नियंत्रण खत्म हो गया है।

                      प्रदेश महामंत्री ने बताया कि अडानी, अंबानी, माल्या समेत 15 व्यापारिक घरानों को बैंक से दिये गये लगभग एक लाख 5 हजार करोड़ का कर्ज भुगतान कराने में सरकार की कोई दिलचस्पी नहीं है। कालेधन की राशि से कई गुना अधिक राशि देश के मोदी सरकार के चहेते उद्योग घरानों के पास है। सरकार के दबाव में बैक वसूल नहीं पा रही है। सरकार की उद्योग और आयकर नीति आम आदमी को राहत पहुंचाने वाली नहीं है।

                                     आम कर्मचारी और मध्यमवर्गीय लोगो से विपक्ष में रहते हुए मोदी और जेटली ने आयकर की सीमा बढ़ाने का वादा किया था। सराफा व्यापारियों पर यू.पी.ए. सरकार ने जब 1 प्रतिशत आबकारी टैक्स लगाया  तो जेटली और मोदी ने विरोध किया था। आज मोदी सरकार ने आयकर सीमा में किसी प्रकार की राहत नहीं दी है। सराफा व्यापारियों पर टैक्स के साथ आपराधिक धारा ठोक दी गयी है।

                     अटल ने बताया कि दो सालों में सर्वाधिक कमाई देने वाला बिलासपुर जोन नई रेल सेवाओं को तरस गया है। रेलवे का सबसे बड़ा बाजार बुधवारी को रेल मंत्रालय ने तोड़कर प्रायवेट व्यक्ति को देने का निर्णय लिया है। प्लेटफार्म टिकट 10 रूपए कर दिया गया है। यात्री भाड़ा में 10 प्रतिशत की वृद्धि कर दी गयी है। स्टेशन की पार्किंग सेवा 500 गुना बढ़ा दी गयी है।  दो वर्ष में बिलासपुर को केन्द्र की किसी भी योजना का लाभ नहीं मिला है। बड़े उद्योग नहीं लगाए गए हैं। किसानों को धान के समर्थन मूल्य, बोनस, प्रति व्यक्ति 35 किलो चावल में कटौती कर दिया गया है।

                                    महामंत्री ने कहा कि विदेश नीति, रक्षा नीति, आतंकवाद से लड़ने की नीति, प्रशासनिक व्यवस्था सभी मामलों में सरकार पूरी तरह से असफल है। जनता दो वर्ष में नारा लगाने लगी है कि ’’हमारी भूल- कमल की फूल’’ । अटल ने बताया कि मोदी सरकार कांग्रेस के सभी योजनाओं का नाम बदल कर, कांग्रेस नेताओं पर वैचारिक हमला कर आर.एस.ए. के एजेंडो को आगे बढ़ा रहीं है।

             केन्द्र सरकार के दो सालों की कामकाज की आलोचना संयुक्त रूप सेजिलाध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला, शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर, प्रदेश सचिव रामशरण यादव, आशीष सिंह ठाकुर, महेश दुबे, पंकज सिंह, विवेक बाजपेयी, कार्यकारिणी सदस्य शेख गफ्फार,  संभागीय प्रवक्ता अभय नारायण राय, शहर प्रवक्ता ऋषि पाण्डेय, अमितेश राय, सुनील शुक्ला, ने भी की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *