नियम विरूद्ध भर्ती वालों पर गिरेगी गाज–सीईओ

IMG_20160527_153352बिलासपुर– जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक में पिछले पांच साल मेंं नियमों को ताक पर रखकर की गयी भर्तियों को निरस्त करने का आदेश जारी कर दिया गया है। जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक बिलासपुर सीईओ अभिषेक तिवारी ने बताया कि आदेश की काफी आज ही मिली है। शासन के आदेश को तामिल लाया जाएगा। भर्तियों और पदोन्नति में की गयी अनियमितता के दोषियों को नहीं छोड़ा जाएगा।

                       जिला सहकारी केन्द्रीय सहकारी बैंक के सीईओ अभिषेक तिवारी ने बताया कि बैंक में विभिन्न पदो की भर्तियों में भारी अनियमितता की शिकायत मिली थी। पदोन्नति में भारी शिकायत थी। शासन के आदेश के बाद जांच रिपोर्ट पंजीयक सहकारी संस्थाएं को भेजा गया था। जांच के दौरान टीम को बैंक में कुछ कर्मचारियों के खिलाफ पंजीयक को स्वेच्छापूर्वक किए गये कार्यों की भी जानकारी मिली थी।

                        अभिषेक तिवारी ने बताया कि पंजीयक सहकारी संस्थाएं ने जांच रिपोर्ट मिलने के बाद उचित कार्रवाई का आदेश दिया है। आदेश का पालन किया जाएगा। नियम विरूद्ध भर्ती वाले कर्मचारियों को ना केवल हटाया जाएगा। ऐसे अधिकारियों और संचालकों के खिलाफ कार्रवाई होगी जिन्होने नियम विरूद्ध भर्ती में सहयोग किया है। तिवारी ने बताया कि जांच में पदोन्नति में भारी गड़बड़ी की गयी है। ऐसे लोगों के खिलाफ भी शासन ने कार्रवाई का आदेश दिया है।

                               मालूम हो कि 2011से 14 के बीच सहकारी बैंक में नियमों को ताक पर रखकर भर्तियां की गयी थी। कई वरिष्ठ अधिकारियों के ऊपर कम अनुभवी कर्मचारियों को बैठा दिया गया था। कई कर्मचारी और अधिकारी मनमानी करते हुए बैंक को लाखों करोड़ों का चूना लगाया। कुछ ने तो अपना वेतन ही बढ़ा लिया। शासन ने लगातार मिल रही शिकायत के मद्देनजर जांच का आदेश दिया था। जांच के दौरान भारी अनियमितता पायी गयी। रिपोर्ट को संज्ञान में लेते हुए पंंजीयक सहकारी संंस्थाएं ने त्वरित कार्रवाई का आदेश दिया है।

                        सीईओ अभिषेक तिवारी ने बताया कि शासन से बैंक में नियम विरूद्ध पदोन्न्ती,भर्तियों मेंं गड़बड़ी और स्वेच्छाकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का आदेश है। आदेश के अनुसार मामले में शामिल सभी अधिकारियों,संचालको और जिम्मेदार कर्मचारियों पर नियम के अनुसार कार्रवाई की जाएगी। बैंक को बट्टा लागने वालों से वसूली भी होगी।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...