आम आदमी ने मांगा हिड़में का पीएम रिपोर्ट

IMG-20160620-WA0010पीजगदलपुर—बिलासपुर उच्च न्यायालय के निर्देश पर गोमपाड की मृतक मड़काम हिड़मे के पोस्टमॉर्टम करने में बस्तर प्रशासन सकते में है। शुक्रवार शाम तक मृतका के शव को जगदलपुर लाया नहीं जा सका है। मामले में प्रदेश सरकार पर दबाव बना रही आम आदमी पार्टी की राज्य समिति जगदलपुर पहुंच गई है। मृतक की माता और वकील भी गांव पहुंच गए हैं।

                       आम आदमी पार्टी के प्रदेश संयोजक संकेत ठाकुर ने बस्तर प्रशासन पर जानकारी छिपाने का आरोप लगाया है। संकेत ने बताया कि जगदलपुर, सुकमा, कोंटा, सभी जगहों पर प्रशासन से जानकारी लेने का प्रयास किया गया लेकिन पोस्टमॉर्टम के बारे में कहीं से भी जानकारी नहीं मिली है। संकेत ने बताया कि प्रशासन भयभीत है।

                             मामले को सामने लाने वाली सोनी सोढ़ी को कोंटा जाने से रोक दिया गया है। सोनी सोढ़ी ने विश्वास जताया है कि सरकार चाहे उन्हें रोके या जेल में बंद करे लेकिन निर्दोष मरकामी हिड़मे को न्याय दिलाने की लड़ाई अंत तक जारी रखेंगे।

                         आम आदमी पार्टी ने एलान किया है कि जब तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं मिल जाता है वे लोग जगदलपुर से नहीं जाएंगे। प्रदेश सचिव नागेश बंछोर ने बताया कि यह लड़ाई बस्तर का सच दुनिया के सामने लाने की है। जब तक सच सामने नहीं आएगा बस्तर का आम आदमी सुरक्षित नहीं होगा।

                                        पोस्टमार्टम रिपोर्ट के लिए जगदलपुर में आदमी आदमी पार्टी की नेता सोनी सोढ़ी, संकेत ठाकुर, नागेश बंछोर, मुन्ना बिसेन, दुर्गा झा, रोहित आर्य, परमेश राजा, समीर खान, विवेक सत्पथी, सुकलधर नाग, अरविन्द गुप्ता, संजय पन्त के अलावा जगदलपुर के 100 से अधिक कार्यकर्ता उपस्थित हैं। उच्च न्यायालय के अधिवक्ता अमरनाथ पांडे, किशोर नारायण, योगेश्वर शर्मा और कमल सिंह बघेल के नेतृत्व में आप की लीगल टीम भी जगदलपुर में ही है। अधिवक्ता निहाल सिंह राठौर मृतका के गाँव में आप की लड़ाई लड़ रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *