अमरनाथ यात्रियों पर उठा सदन में प्रश्न

CG-VIDHAN-SABHA.previewरायपुर—मरवाही विधायक अमित जोगी ने विधानसभा के मानसून सत्र के पहले दिन अमरनाथ में फंसे छत्तीसगढ़ के यात्रियों का मुद्दा उठाया।  करीब 400 यात्रियों की सुरक्षा और वापसी पर सरकार का ध्यान आकर्षित किया। जोगी ने सरकार पर यात्रियों की सुरक्षा को लेकर किसी प्रकार के प्रयास नहीं करने का आरोप लगाया।

                        जोगी ने सरकार से कहा कि बालटाल में फंसे छत्तीसगढ़ के करीब 400 अमरनाथ यात्रियों को सुरक्षित लाया जाए। कश्मीर घाटी में हिजबुल मुजाहिदीन के पोस्टर ब्वॉय और आतंकी बुरहान वानी की मौत के बाद भड़की हिंसा के चलते अमरनाथ यात्रा पर हजार से ज्यादा श्रद्धालु बालटाल में फंस गए हैं। छत्तीसगढ़ के 400 यात्री भी इसमें शामिल हैं। श्रद्धालु शिव गौरी सिद्ध सेवा मंडल बालटाल में भंडारे और आसपास के टैंट में गुजार रहे हैं। यात्रा के दौरान फंसे श्रद्धालुओं को जहां टैंटों में रातें गुजारने को मजबूर होना पड़ रहा है। वहीं लोग ग्लेशियर का पानी पीने को मजबूर हैं।

रमशीला साहू से सवाल

                   अमित जोगी ने विधानसभा में राज्य महिला आयोग को  महिलाओं पर हुए अत्याचार से सम्बंधित शिकायतों और राज्य महिला आयोग में रिक्त पदों का मुद्दा उठाया। प्रश्नकाल में अतारांकित प्रश्न के माध्यम से जोगी ने महिला और बाल विकास मंत्री रमशीला साहू से पूछा कि साल 2015 में राज्य महिला आयोग को महिलाओं पर हुए अत्याचार से सम्बंधित कितनी शिकायतें मिली थीं। कितने मामले अब तक लंबित हैं। राज्य महिला आयोग में कितने पद स्वीकृत हैं और वर्त्तमान में क्या स्थिति है।

                जोगी के सवाल के उत्तर में महिला एवं बाल विकास मंत्री ने बताया की राज्य महिला आयोग को साल 2015 में कुल ६२४ शिकायतें मिली थीं 249  शिकायतें लंबित हैं।  रायपुर जिले से सबसे ज्यादा 149 शिकायतें मिली है। 87 शिकायतें अब भी लंबित हैं। मंत्री ने बताया की राज्य महिला आयोग में एक अध्यक्ष और ६ सदस्यों के पद स्वीकृत हैं।  वर्त्तमान में सिर्फ अध्यक्ष और एक सदस्य कार्यरत हैं।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...