पार्षद पुत्र और भांजी ने लूटा मामा का घर

parshadबिलासपुर—कांकेर पुलिस ने पार्षद पुत्र और होने वाली पत्नी समेत तीन लोगों को चोरी के आरोप में बिलासपुर से हिरासत में लिया है। पार्षद पुत्र आदित्य गोस्वामी और उसके साथियों ने राजिम निवासी मंगेतर नेहा के इशारे पर कांकेर में चोरी की घटना को अंजाम दिया। बताया जा रहा है कि जिस घर में चोरी हुई नेहा के मामा का है। नेहा ने होने वाले पति के साथ मिलकर लाखों रूपए के जेवर को पार करवाने में सहयोग किया है।

                                 राजिम निवासी नेहा गोस्वामी ने अपने मंगेतर के साथ मिलकर कांकेर में चोरी की घटना को अंजाम दिया है। जानकारी के अनुसार महिला आयोग की सदस्य मीना गोस्वामी के बेटे आदित्य की सगाई जुलाई में राजिम निवासी नेहा गोस्वामी से हुई। सगाई के बाद नेहा और आदित्य के बीच घंटो मोबाइल से बात होती थी। पार्षद पुत्र आदित्य ने नेहा को फोन पर बताया कि पैसे नहीं है इसलिए अभी शादी नहीं हो सकती है।

                           लगातार रूपयों को लेकर दोनों के बीच बातचीत होती थी। इस बीच नेहा अपने मामा अनिल गिरी गोस्वामी के घर कांकेर घूमने गयी। नेहा के मामा ने भांजी की शादी के लिए गहने बनवाए थे। इस बात की जानकारी नेहा को भी थी। नेहा गहने को चुराने के लिए आदित्य को कांकेर बुलाया। आदित्य अपने दोस्त रीना सेन और अजय सोनवानी के साथ 17 अगस्त को कांकेर पहुंच गया।

                    साजिश के तहत आदित्य ने तारबाहर निवासी रीना सेन को नेहा के साथ मामा के घर भेज दिया। नेहा और रीना ने मामा के खाने में दवा मिलाकर बेहोश कर दिया।  दोनों ने आलमारी से गहने और रुपये को पार कर दिया। रीना ने फोन कर आदित्य और अजय को घर बुलाया और 65 हजार रूपए नगद समेत गहनो को लेकर भाग जाने को कहा।

                               पुलिस जानकारी के अनुसार साजिश के तहत नेहा और रीना जिस कमरे में थे उसे अादित्य और अजय ने बाहर से बंद कर दिया था। ताकि पुलिस को दोनों पर किसी प्रकार का शक ना हो। सुबह नेहा के मामा ने देखा कि जिस कमरे में रकम और रूपए रखे थे…सारा सामान विखरा हुआ था। आनन फानन में सुनील गोस्वामी ने पड़ोसियो को फोन कर बाहर का दरवाजा खुलावाया। कांकेर थाना पहुंचकर मामले की शिकायत दर्ज कवाई।

                  सुनील गोस्वामी की सूचना पर कांकेर पुलिस ने घर के सदस्यों से पूछताछ के बाद मोबाइल लोकेशन को भी ट्रेस किया। छानबीन के दौरान मालूम हुआ कि घटना में नेहा और रीना का हाथ हैं। पूछताछ के दौरान नेहा ने पुलिस को सारी बातों से अवगत कराया। नेहा के अनुसार आदित्य के साथ उसकी सगाई जुलाई में हुई है। दोनों के बीच अक्सर बातचीत होती है। आदित्य ने बताया कि बिना रूपयो के शादी कैसे होगी। परेशान होकर हम दोनो ने प्लान बनाया कि मामा के घर से रकम और रूपए पार किया जाए।

                                       सारी जानकारी मिलने के बाद कांकेर पुलिस ने आज स्थानीय पुलिस के सहयोग से तालापारा स्थित वार्ड पार्षद मीना गोस्वामी के घर दबिश दी। आदित्य गोस्वामी को हिरासत लेने के बाद तालापारा निवासी अजय सोनवानी और तारबाहर निवासी रीना गोस्वामी को गिरफ्तार किया। तीनों को सिविल लाइन थाने में पेश किया।शिनाख्ती के बाद तीनो आरोपियो और नेहा को कांकेर पुलिस साथ ले गयी।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...