जोगी युवा कांग्रेस नेताओं ने घेरा आयोग

aug_twenty_cjcरायपुर—लोक सेवा आयोग दफ्तर का सोमवार को घेराव करने निकले सैकड़ों युवा छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जोगी  कार्यकर्ता भगत सिंह चौक पर ही रोक दिया गया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया। नारेबाजी कर परीक्षा निरस्त करने और गलत प्रश्र चयन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।पुलिस से झूमा-झटकी भी जमकर हुई। करीब तीन सौ से अधिक कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया।

                युवा छजकां प्रदेश अध्यक्ष विनोद तिवारी की अगुवाई में आज सैकड़ों कार्यकर्ता मरीन ड्राइव तेलीबांधा में जमा हुए। सभी लोग भीड़ के शक्ल में  नारेबाजी करते हुए भगत सिंह चौक शंकर नगर पहुंचे। पुलिस ने बेरीकेड्स लगाकर कार्यकर्ताओं को आगे बढऩे से रोक लिया। नाराज कार्यकर्ताओं ने जमकर प्रदर्शन किया। सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

                   कार्यकर्ताओं ने बताया कि पीएससी में जमकर मनमानी चल रही है। अच्छे परीक्षार्थियों को इसका खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। प्रदेश अध्यक्ष तिवारी ने बताया कि सहायक प्राध्यापक इंजीनियरिंग कॉलेज और व्याख्याता पॉलीटेक्निक कॉलेज परीक्षा 22 मई 2016 को आयोजित की गई थी। परीक्षा में 150 प्रश्र पूछे गए थे। बाद में आयोग ने 28 प्रश्रों को हटा दिया। जिससे परीक्षार्थियों को नुकसान हुआ है। करीब 20 फीसदी प्रश्रों को विलोपित करने के कारणों का आयोग कोई जवाब नहीं दे रहा है।

                      विकास तिवारी ने कहा कि हमें पूरा विश्वास है कि बाहरी लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए आयोग काम कर रहा है। इसलिए भर्ती परीक्षा तत्काल निरस्त कर जिम्मेदार पदों पर बैठे अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। विकास ने चेतावनी दी है कि मांग पूरी नहीं होने पर एक बार फिर जोगी कार्यकर्ता और समाज के जागरूक लोग सड़क पर उतरने को बाध्य होंगे। उग्र आंदोलन चलाया जाएगा। युवा छजकां नेता ने चेतावनी दी है कि छत्तीसगढ़ के युवाओं के भविष्य के साथ किसी प्रकार का समझौता नहीं किया जाएगा।

              पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गिरफ्तार किये गए  सभी कार्यकर्ताओं को एसडीएम न्यायालय में पेश करने के बाद मुचलके पर छोड़ दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *