ग्रेटर नोएडा से सपड़ाया दुष्कर्म का आरोपी…

IMG-20150529-WA0012

बिलासपुर— महिला का अपहरण कर टीकमगढ़ ले जाने और उसका शारीरिक शोषण करने वाले एक युवक को बिलासपुर पुलिस ने ग्रेटर नोएडा से गिरफ्तार किया है। युवक का नाम संदीप चौरसिया पिता छन्नुलाल चौरसिया बताया जा रहा है। संदीप चौरसिया ऊर्फ संजय गुप्ता ने तिफरा की एक महिला का अपहरण कर पहले रीवा फिर टीकमगढ़ ले गया। जहां उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया। बाद में अपने परिचितों के यहां काम पर लगा दिया।

               एक साल बाद किसी तरह आरोपी के चंगुल से बचकर बिलासपुर पहुंची महिला ने पुलिस से अपनी आपबीती सुनाई। बिलासपुर पुलिस ने अपराध पंजीबद्ध कर आरोपी को पक़ड़ने के लिए दो बार मध्यप्रदेश का दौरा किया लेकिन सफलता हाथ नहीं लगी। तीसरे प्रयास में पुलिस ने आरोपी संदीप ऊर्फ संजय को ग्रेटर नोएडा से गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी को लेकर पुलिस सुबह तक बिलासपुर पहुंच जाएगी।

              पुलिस जानकारी के अनुसार महिला तिफरा की रहने वाली है उसने सिरगिट्टी थाने में शिकायत दर्ज करवाई थी कि संदीप ने उसका अपहरण कर दुष्कर्म किया है। उसने अपने रिपोर्ट में बताया कि 2013 में उसके मोबाइल पर एक मिस काल आया था। मिस काल पर जब उसने नम्बर लगाया तो एक व्यक्ति से बातचीत हुई। व्यक्ति ने अपना नाम संदीप  बताया।इसके बाद दो एक बार फिर काल आया। आरोपी युवक ने महिला से बातचीत के दौरान बताया कि उसकी बहन नहीं है। इसलिए वह मुझे अपना भाई समझे। भाई बहन का रिश्ता बनने के बाद उसकी बात रोज होने लगी। एक दिन आरोपी ने मोबाइल पर बताया कि वह बिलासपुर आने वाला है। इसी बहाने बहन से भाई की मुलाकात हो जाएगी। 15 नवम्बर 2013 को वह बिलासपुर आया। उससे मिलने महिला बस स्टैण्ड गयी।

                 आरोपी इलाहाबाद जाने वाली बस में बैठा था। कुछ देर तक दोनों में बातचीत होती रही। जब बस चलने लगी तो उसने महिला को बस से उतरने नहीं दिया। रीवा पहुंचकर महिला को एक ट्रक से टीकमगढ़ ले गया। जहां उसने महिला के सारे जेवर बेंच दिये। इतना ही नहीं उसके साथ कई बार दुष्कर्म भी किया।

                     पुलिस को दिये बयान में महिला ने बताया कि इस दौरान युवक ने अपने परिचितों के यहां घर के काम में लगा दिया। एक दिन उन्ही परिचितों के सहयोग से महिला एक साल बाद भागकर बिलासपुर आ गयी और सिरगिट्टी थाने में शिकायत दर्ज करवाई। महिला की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ पुलिस ने धारा 366,506,342 और 376 के तहत मामला दर्ज कर युवक की दो बार टीकमगढ़,छतरपुर,झांसी जाकर तलाश की लेकिन आरोपी का कोई सुराग नहीं लगा।

              महिला की याचिका पर हाईकोर्ट ने पुलिस को आदेश दिया कि आरोपी को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जाए। पुलिस कप्तान बद्रीनारायण मीणा के निर्देश पर फिर एक टीम को युवक को आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए संभावित स्थानों पर भेजा गया। जानकारी के अनुसार शुक्रवार को मोबाइल लोकेशन के आधार पर टीम ने आरोपी का पीछा करते हुए ग्रेटर नोयडा से गिरफ्तार कर लिया है। कल उसे बिलासपुर लाया जाएगा। बिलासपुर पुलिस ने बताया कि युवक मूल रूप से ग्वालियर के बिलऊवा का रहने वाला है। महिला के साथ वह टीकमगढ़ के निमाड़ी में रहता था।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...