जनता नहीं करेगी सरकार का नवीनीकरण..भूपेश बघेल

bsp_baghel  बिलासपुर—नेहरू चौक पर आयोजित कांग्रेस के महासभा सभा में पीसीसी अध्यक्ष भूपेशIMG-20160908-WA0084 बघेल निगम और प्रशासन पर जमकर बरसे। झुग्गीवासियों ने भूपेश बघेल के भाषण पर जमकर तालियां बजायी। भाषण के दौरान सरकार पर किए गए चोट जनता ने जमकर भूपेश के समर्थन में जमकर नारेबाजी की। विशाल जनसमूह को संबोधित करते हुए भूपेश ने कहा कि गरीबों की बस्तियां उजड़ रही है लेकिन सरकार पिकनिक मनाने फुर्सत नहीं है। जिस सरकार को जनता से सरोकार नहीं उस सरकार को 2018 में जनता उखाड़ कर फेंकने वाली है। शायद इसलिए ही जनता पर सरकार आतंक दिनों दिन बढ़ता ही जा रहा है।

                                           अरपा पार सरकंडा क्षेत्र के डबरीपारा में नगर निगम की कार्रवाई के विरोध में आज जिला कांग्रेेस कमेटी ने नेहरू चौक में विशाल धरना प्रदर्शन और महारैली का आयोजन किया। महारैली को जसबीर गुम्बर,चन्द्रप्रकाश वाजपेयी,शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर, ग्रामीण कमेटी के अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला, पीसीसी महामंत्री अटल श्रीवास्तव, मस्तुरी विधायक दिलीप लहरिया, अकलतरा विधायक चुन्नी लाल साहू, पूर्व महापौर राजेश पाण्डेय पूर्व शहर अध्यक्ष रविन्द्र सिंह, निगम नेता प्रतिपक्ष शेख नजीरूद्दीन ने संबोधित किया।

                                कार्यक्रम में कांग्रेस पार्षद दल के प्रवक्ता शैलेन्द्र जायसवाल, अर्जुन तिवारी,विजय पाण्डेय.कमला मनहर,पूर्व बीडीए अध्यक्ष शेख गफ्फार,संभागीय प्रवक्ता अभय नारायण राय समेत जिला कांग्रेस के सभी नेता उपस्थित थे।

            इसके पहले डबरीपारा,चिंगराजपारा,  राजकिशोर नगर, लिंगियाडीह के अलावा बिलासपुर विधानसभा क्षेत्र के सभी झुग्गीझोपड़ी वासी विभिन्न रास्तों से होकर नेहरू चौक में विशाल धरने का स्वरूप दिया। इस दौरान लोगों को भूपेश बघेल का लम्बा इंतजार करना पड़ा लेकिन अंत तक लोगों ने धैर्य के साथ पीसीसी अध्यक्ष का इंतजार किया। देर से मंच पर पहुंचे पीसीसी अध्यक्ष ने किसी को निराश भी नहीं किया। उन्होने कहा कि किसी के आशियाने को उजड़ नहीं दिया जाएगा।

मंच कोIMG-20160908-WA0087 संबोधित करते हुए पीसीसी अध्यक्ष ने कहा कि लोकतंत्र में जनता से बड़ा कोई नहीं है। सरकार जनता की होती है…जनता सरकार की। बावजूद इसके मगरूर सरकार ने गरीबों की बस्ती को उजाड़ने की गुस्ताखी की है। जनता 2018 में भाजपा को सबक सीखा कर रहेगी। भूपेश ने कहा कि साल 1984 और 1998 में कांग्रेस सरकार ने गरीबों को स्थायी पट्टा दिया। इन सालों में गरीबों ने अपनी गाढ़ी कमाई से सपनों का घर बनाया। सरकार उसे तोड़कर काम्पलेक्स बनाना चाहती है। मैं पूछता हूूं कि क्या गरीबों को शहर में सम्मान से रहने का अधिकार नहीं है।

                               उन्होने कहा कि अजीब बात है सरकार ने डबरीपारा की जमीन को बेच दिया…लेकिन पट्टाधारियों की इसकी खबर तक नहीं है। तर्क दिया जा रहा है कि झुग्गीझोपड़ी वासियों को पक्के मकान देने के लिए ऐसा किया जा रहा है। भूपेश ने कहा कि सरकार सत्ता के नशे में अंधी हो चुकी है। उसे डबरीपारा में बड़े बड़े घर नहीं दिखायी दिये।

             भूपेश ने बताया कि डबरीपारावासियों की जमीन को प्रदेश सरकार ने एक रूपए के दाम निगम को बेच दिया है। निगम डबरीपारा वासियों को हटाकर महंगी जमीन को हथियाना चाहती है। भूपेस ने कहा कि हम निगम को उसके मंसूबों में कामयाब नहीं होने देंगे। बस्ती को किसी भी सूरत में उजडऩे नही देंगे। डबरीपारा ही नहीं बिलासपुर में किसी भी गरीबों के आशियाने को बचाने के लिए सडक़ की लड़ाई लड़ेगें…।  गरीबो की आवाज हम विधानसभा में उठाएंगे।

                               भूपेश ने कहा कि जरूरत पड़ी तो कांग्रेस पार्टी न्यायालय की शरण में भी जाएगी। लेकिन गरीबों की बस्ती को उजड़ने नहीं दिया जाएगा। भूपेश बघेल ने राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि नसबंदी कांड, आंख फोड़वा कांड के बाद भी आतंकी सरकार का मन अभी भी नहीं भरा है। बिजली दर में वृद्धि से भी भाजपा शासन का पेट नही भरा है। जिस तरह से दशहरा में दम्भी रावण  दहन के समय रावण अट्टहास करता है उसी तरह भाजपा भी अट्टहास कर रही है…क्योंकि अब सरकार का जाने का समय आ गया है।

IMG-20160908-WA0088                                उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए भूपेश ने कहा कि गरीबों की हाय कभी खाली नहीं जाती….। इसका भुगतान भाजपा सरकार करना ही होगा। सरकार पर चोट करते हुए भूपेश ने कहा कि बस्ती उजड़ रही है…भाजपा को पिकनिक मनाने से फुर्सत नहीं है।

        भूपेश ने बताया कि निगम हो या सरकार किसी की धमकी मेें आकर लोगों को घबराकर घरद्वार छोड़ने की जरूरत नहीं है। कांग्रेस पार्टी डबरीपारा वासियों के साथ है। भूपेश ने कहा कि पट्टा हमारा स्थायी है इसलिए किसी को नवीनीकरण करवाने की जरूरत भी नहीं है। क्योंकि प्रदेस की जनता ने मन बना लिया है कि 2018 में रमन सरकार का नवीनीकरण नहीं किया जाएगा।

चरमरा गयी यातायात व्यवस्था

                                                      लम्बे अर्से बाद नेहरू चौक में विशाल रैली और महासभा ने यातायात को भी प्रभावित किया। चारो तरफ से आने वाली सड़कें जाम हो गयी। यातायात को दुरस्त करने में पुलिस बल को जमकर पसीना बहाना पड़ा। रायपुर,अम्बिकापुर,शहर और मुंगेली से आने वाली सड़कें घंटो जाम रही। किलोमीटर तक वाहनों की लंबी कतार लग गई। महासभा में पहुंचे झुग्गीवासियों ने मंच के सामने बीच सड़क पर बैठकर ना केवल भूपेश बघेल का भाषण सुना बल्कि सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।

                                यातायात व्यवस्था को व्यवस्थित करने में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रशांत कतलम, सिविल लाइन थाना प्रभारी नजर सिद्धिकी और  पुलिस के जवानों ने किसी तरह एक तऱफ की सड़क को प्रदर्शनकारियों से मुक्त कराया। तभी कहीं जाकर आवागमन की स्थिति बनी।

 

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...