छापामार कार्रवाई में अवैध ईमारती लकड़ी जब्त

IMG-20161014-WA0002 IMG-20161014-WA0003बिलासपुर—सीसीएफ उड़नदस्ते की टीम को बैमा नगोई में छापामार कार्रवाई के दौरान निर्माणाधीन मकान से सागौन और साल के सिलपट मिले हैं। छापामार कार्रवाई के दौरान मकान मालिक ने वन विभाग के सामने एक सप्ताह के भीतर जरूरी दस्तावेज पेश करने का दावा किया है।

                  मुखबीर की सूचना पर सीसीएफ की टीम ने बौमा नगोई से छापामार कार्रवाई के दौरान इमारती लकड़ियों को जब्त किया है। साल और सागौर सिलपट का प्रयोग निर्माणाधीन मकान में होना था। फारेस्ट कार्रवाई के दौरान मकान मालिक ने अधिकारियों के सामने एक सप्ताह के भीतर लकड़ी संबंधी दस्तावेज पेश करने को कहा है।

                              सीसीएफ उड़न दस्ता प्रभारी अब्दुल वहिद खान ने बताया कि सूचना के आधार पर बैमा में आवासपारा निवासी शिव शंकर खरे के निर्माणाधीन मकान में दबिश दी गयी। सागौन और साल के सिलपट मिले। छापामार कार्रवाई के दौरान चौखट निर्माण और दरवाजा बनाने का काम चल रहा था। मकान मालिक ने पूछताछ के दौरान संतोषजनक जवाब नहीं दिया। कभी वह इमारती लकड़ियों को खरीदना बताया तो कभी बाडी से पेड़ काटने की बात कही।

               टीम ने मकान मालिक शिव शंकर खरे को एक सप्ताह के भीतर जरूरी दस्तावेज दिखाने को कहा। टीम ने मौके मिले सभी सिलपट को जब्त कर लिया। जब्त सिलपटो की कीमत एक लाख रूपए से अधिक की बतायी जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *