लैपटॉप सूचना क्रांति का एक बड़ा हथियार

cm-3918laptopदुर्ग।मुख्यमंत्री ने शनिवार को संभागीय मुख्यालय दुर्ग में छत्तीसगढ़ युवा सूचना क्रांति योजना के तहत 21 कॉलेजों के छह हजार 459 विद्यार्थियों को निःशुल्क लैपटॉप वितरित किए। दुर्ग और भिलाई के 18 कॉलेजों के पांच हजार 848 और राजनांदगांव जिले के तीन कॉलेजों के 611 विद्यार्थी शामिल हैं। मुख्यमंत्री के हाथों लैपटॉप मिलने पर उनके चेहरे खुशियों से चमक उठे। सीएम ने कहा गरीब परिवारों के युवाओं को पढ़ाई के लिए लैपटॉप मिलने में आर्थिक रूप से असुविधा होती थी। इसे ध्यान में रखकर हमने योजना बनाई। सीएम ने कहा कि लैपटॉप प्रदेश के विद्यार्थियों को उनके भविष्य निर्माण के लिए राज्य सरकार की ओर से एक उपहार की तरह है। वे इसका सदुपयोग करें और देश-दुनिया से जुड़कर अपने ज्ञान के क्षितिज का विस्तार करें।

                                               मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि नई पीढ़ी को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा का अधिक से अधिक अवसर देने के लिए राज्य सरकार ने नया रोड मैप तैयार कर लिया है और उसी के अनुरूप शिक्षा के क्षेत्र में हर प्रकार की सुविधा और अधोसंरचना का विकास किया जा रहा है। सीएम ने लैपटॉप को युवा छात्र-छात्राओं की पढ़ाई में सुविधा की दृष्टि से काफी उपयोगी बताया। उन्होंने कहा कि इसे इंटरनेट से जोड़कर ज्ञान का अथाह भंडार प्राप्त किया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने लैपटॉप को सूचना क्रांति का एक बड़ा हथियार बताया। डॉ. सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ के विद्यार्थियों में प्रतिभा की कोई कमी नही है।

                                              राज्य के अनेक युवा आज देश-विदेश में विभिन्न क्षेत्रों में काम कर रहे हैं। डॉ. सिंह ने कहा विगत तेरह वर्षों में छत्तीसगढ़ ने हर क्षेत्र में काफी तरक्की की है। इंजीनियरिंग कॉलेजों की संख्या 12 से बढ़कर 59 हो गई है। उच्च शिक्षा और तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में भारतीय प्रबंध संस्थान (आई.आई.एम.), भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आई.आई.टी.) और ट्रिपल आई.टी. सहित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) का भी सुचारू संचालन होने लगा है। राष्ट्रीय स्तर की इन संस्थाओं का छत्तीसगढ़ में होना हम सबके लिए गर्व की बात है। आज दुर्ग में निजी क्षेत्र के अंतर्गत श्री शंकराचार्य चिकित्सा विज्ञान संस्थान (मेडिकल कॉलेज) का शुभारंभ हुआ, जो राज्य में सरकारी और निजी मिलाकर दसवां मेडिकल कॉलेज है।

Comments

  1. By Aakash Soni

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *