क्या जोगी को नहीं मालूम…मोदी, भारत के प्रधानमंत्री..धरमलाल

dharam_laal_kaushukबिलासपुर– देशहित में लिये गए लिए गए किसी भी निर्णय में थोड़ी बहुत कठिनाई और परेशानी आती ही है। जल्द ही लोगों की परेशानी खत्म हो जाएगी। कालाधन बहुत जल्द ही बाहर आने वाला है। धीरे धीरें परिस्थितियां सामान्य हो जाएंगी। सरकार ने अब तो नोट बदलने,निकालने का दायरा भी बढ़ा दिया है। मोदी भारत के प्रधानमंत्री हैं…पहले भारत में जमा कालेधन को बाहर निकाल रहे हैं…स्विजरलैण्ड के बैंकों से भी भारत का कालाधन निकाला जाएगा। विपक्ष के नेताओं को थोड़ा बहुत तो सब्र करना ही पड़ेगा। यह बातें प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने पत्रकारों से कही।

                        पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि यह सच है कि नोटबंदी एलान के बाद आम जनता को परेशानी हो रही है। लेकिन किसी आम नागरिक ने अपनी पीड़ा को नहीं बताया। जाहिर सी बात है कि उसे पता है कि इस अभियान से कालेकारोबारियों को राहत नहीं मिलने वाली है। आम नागरिक परेशानियों के बीच अच्छे दिन की आशा में चैन की नींद सो रहा है। लेकिन कालेधन के मालिकों की नींद हराम है। अभी और होना बाकी है। धरमलाल ने कहा कि नोटबंदी की मुख्य वजह कालाधन ही नहीं बल्कि फेक नोटों पर भी लगाम कसना है। आंतकवादियों की कमर टूटने वाली है। नक्सलियों को अब राहत नहीं मिलने वाला है। देश की सीमा पार से फेक नोट को भारत में खपाया जा रहा है। अब ऐसा संभव नहीं है।

                                 धरमलाल ने कहा कि सरकार आम जीवन के हितों को लेकर चिंतित है। आज ही सरकार ने नोट निकालने की सीमा को बढ़ा दिया है। लोगों को इस निर्णय से लाभ मिलेगा। जल्द ही सब कुछ सामान्य हो जाएगा। जोगी के बयान पर कौशिक ने कहा कि जोगी को मालूम होना चाहिए कि नरेन्द्र मोदी भारत के प्रधानमंत्री हैं…स्वीजरलैण्ड के नहीं…। पहले घर की सफाई हो जाए…स्विजरलैण्ड से भी कालाधन वापस आ जाएगा।

                             नोट बंदी अभियान का दूरगामी परिणाम बहुत ही सुखद होगा। धरमलाल ने कहा कि सदन से लेकर सड़क तक विपक्ष गला फाड़कर चिल्लाता था कि कालाधन लाओ..कालाधन लाओ..। अब ला रहे हैं तो विपक्ष के पेट में दर्द होना शुरू हो गया है।

              नोटबंदी अभियान का असर धान खरीदी पर भी होगा के सवाल पर धरमलाल ने कहा कि ऐसा हरगिज नहीं होगा। धानखरीदी चेक पर किया जाएगा। किसानों को पैसा सही समय पर ही मिलेगा। सारी तैयारियों हो चुकी है। किसान निडर होकर अपना धान खरीदी केन्द्र ले जाएं। उन्हें भुगतान किया जाएगा।

                      धरमलाल ने कहा कि नोटबंदी अभियान का उत्तरप्रदेश और पंजाब चुनाव से कोई लेना देना नहीं है। नोटबंदी अभियान केवल और केवल कालेधन को बाहर लाना है। नक्सली समस्या की कमर तोड़ना है। फेक नोट खपाने वालों को मुंहतोड़ जवाब देना है।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...