झीरम काण्ड में कल्लूरी की भी भूमिका…भूपेश

IMG-20161125-WA0084बिलासपुर—मोदी सरकार के नोटबंदी अभियान से व्यापारी,मजदूर,किसान,गरीब,आम जनता परेशान है। नोटबंदी अभियान के तरीकों से कांग्रेस पार्टी को एतराज है। 28 नवम्बर को कांग्रेस पार्टी राष्ट्रव्यापी आक्रोश रैली निकालेगी। देश में नोटबंदी अभियान से सैकड़ों लोगों की मौत हो चुकी है। अर्थशास्त्रियों का मानना है कि नोटबंदी अभियान से देश को चालिस लाख करोड़ रूपयों का नुकसान होगा। दिहाड़ी मजदूरों के घरों में चूल्हें नहीं जल रहे हैं। पिछले पन्द्रह दिनों में भारत के खजाने में कितना कालाधन आया कम से कम केन्द्र सरकार को बताना चाहिए। यह बातें प्रेसवार्ता के दौरान पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल ने कही।

                            पत्रकारों को भूपेश ने बताया कि मोदी के विमुद्रीकरण अभियान से लाखों मजदूरों के घरों में चूल्हा नहीं जल रहा है। अर्थशास्त्रियों की माने तो पचास दिनों में विमुद्रीकरण अभियान से चालिस लाख करोड़ रूपए का नुकसान होगा। उन्होने बताया कि किसान धान लेकर भटक रहा है। जिनके धान बिक गए हैं वे चेक लेकर सहकारी बैंकों का चक्कर काट रहे हैं। हद हो गयी कि रिजर्व बैंक ने सहकारी बैंक में किसानों के लेन देन पर प्रतिबंध लगा दिया है। शायद सरकार को लगता है कि किसानों के पास ही कालाधन है। भूपेश ने बताया कि व्यापारी सामान बेचना चाहते हैं…ग्राहक सामान खरीदना भी चाहते हैं…लेकिन जनता को अपने ही नोट को बैंक से निकालने में संदेह की नजर से देखा जा रहा है। अजीब बात है..आखिर मोदी जी चाहते क्या हैं।

                  भूपेश ने बताया कि एक आदेश का अभी पालन नहीं होता है…सरकार नोटबंदी अभियान को लेकर नया फरमान जारी कर देती है। दरअसल सरकार के पास ना तो दृष्टि है और ना ही दृष्टिकोण। विमुद्रीकरण के बाद जनता को हो रही परेशानी को देखते हुए राष्ट्रीय कांग्रेस ने 28 नवम्बर को आक्रोश रैली का एलान किया है। प्रदेश में आक्रोश रैली निकाली जाएगी। ग्राम,ब्लाक,जिला,संभाग,प्रदेश स्तर पर नोटबंदी अभियान का विरोध किया जाएगा। भूपेश ने बताया कि देश ही नहीं प्रदेश में भी नोटबंदी अभियान ने कई लोगों को मौत के मुंंह में झोंका है।

                               नक्सली समस्या और कल्लूरी पर किए गए सवाल पर भूपेश ने कहा कि कल्लूरी की करतूतों से सभी लोग परिचित है। कल्लूरी कुछ ज्यादा ही बोलता है। प्रधानमंत्री के आगमन पर बयान देता है कि चुनाव तक नक्सली समस्या को खत्म कर दिया जाएगा। भूपेश ने कहा कि चुनाव को लेकर अधिकारियों को बयान देने की क्या जरूरत है। कल्लूरी का झीरम घाटी हत्याकाण्ड से गहरा रिश्ता है। इसलिए वह झीरम टू की बात करता है। पीसीसी अध्यक्ष ने बताया कि बिलासपुर,जशपुर,बलरामपुर पदस्थापना के दौरान कल्लूरी ने बहुत आतंक मचाया है। उसके कुकर्म किसी से छिपे नहीं है। सरगुजा की एक महिला ने कोर्ट में बयान दिया है कि कल्लूरी ने उसके सामने ही पति को मार डाला। श्वसुर के सामने बलात्कार किया। बावजूद इसके प्रदेश सरकार कल्लूरी की पीठ ठोंकती है। कारण क्या है मुख्यमंत्री को बताना चाहिए।

                 एक सवाल के जवाब में भूपेश ने बताया कि नोटबंदी एलान के बाद सोने का रेट दुगुना हो गया। फिर भी प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री कहते हैं कि भ्रष्टाचार बर्दास्त नहीं किया जाएगा। मैने सीएम से प्रश्न किया है कि नोटबंदी एलान के बाद देर रात तक सिविल लाइन थाना से देवेन्द्रनगर के बीच बंद गांड़ी में क्या लाया ले जाया जा रहा था। लेकिन सीएम ने अभी तक जवाब नहीं दिया है।

 

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...