वाणी राव ने आईना देखकर दिया बयान….भूपेश

BHUPESH बिलासपुर— बिलासपुर मेंं लगातार हिरासत में मौत हो रही है। आम जनता प्रशासन की तानाशाही से त्रस्त है। रेलवे क्षेत्र स्थित बस्ती को उजाड़ा जा रहा है। मामला गंभीर है। प्रशासन हाथ पर हाथ रखे बैठा है। यदि लोगों की समस्याओं को ध्यान नहीं दिया गया तो कांग्रेस पार्टी आंदोलन करेगी। मैं किसान न्याय यात्रा में शामिल होने पेन्ड्रा जा रहा हूं। मरवाही क्षेत्र की जनता को कांग्रेस ने आश्वासन दिया है कि हम उनके साथ हैं। वाणी राव के पार्टी छो़ड़ते ही असामाजिक तत्वों की कमी आयी है। वाणी राव दरअसल आईना देखकर बात कह रही हैं।

                          किसान किसान न्याया यात्रा में शामिल होने पेन्ड्रा रवाना होने से पहले पीसीसी अध्यक्ष ने बिलासपुर में पत्रकारों के सवालों का जवाब दिया। भूपेश ने बताया कि मुख्यमंत्री की अमेरिका यात्रा निजी स्वार्थ को लेकर थी। दरअसल अगस्ता वेस्टलैण्ड में उनके परिवार का नाम आया है। उसका पता साजी करने गए थे। मुख्यमंत्री बताएं कि अभी तक कितने उद्यमियों ने प्रदेश में उद्योग लगाने का समर्थन किया है।

एक सवाल के जवाब में पीसीसी अध्यक्ष ने कहा कि आदिवासियों को बस्तर क्षेत्र में चुन चुनकर मारा जा रहा है। कल्लूरी मात्र एक मोहरा है। सरकार ने आदिवासी समाज को नक्सली सफाया के बहाने साफ करने बीड़ा उठाया है।

                                     BHUPESH... भूपेश ने नोटबंदी के सवाल पर बताया कि सरकार को समझ में नही आ रहा है कि वह क्या करना चाहते हैं।  देश की 95 प्रतिशत करंसी जमा हो चुकी है। अभी तक मोदी सरकार को कालाधन नहीं मिला है। नोटबंदी के पहले उम्मीद थी कि साढ़े चौदह लाख करोड़ करंसी में करीब चार लाख करोड़ करंसी काले धन के रूप में मिलेगी। लेकिन ऐसा नहीं हुआ।सरकार का दृष्टकोण स्पष्ट नहीं है। प्रधानमंत्री ने विदेश से कालाधन लाने का वादा किया था। जब उद्योगपतियों से कालाधन नहीं मिला तो देश को लाइन में खड़ा कर दिया। देश का एक एक नागरिक नोटबंदी से परेशान है। तीन पालियों में चलने वाले कल कारखाने एक शिफ्ट में चल रहे हैं। लाखो करोड़ों हाथ बेरोजगार हो गए हैं। पचास दिन की श्रम शक्ति को नुकसान पहुंचा है। देश के विकास को बहुत बड़ा झटका लगा है।

                   भूपेश ने बताया कि प्रधानमंत्री ने नोटबंदी और कालाधन के नाम पर देश की महिलाओं का अपमान किया है। पीढियों की जमापूंजी को इंस्पेक्टर राज के हवाले कर दिया है। सोने के जेवरात का बिल नहीं है तो इंस्पेक्टर को काला और सफेद करने का अधिकार दिया है।  कैशलेश के सवाल पर भूपेश ने बताया कि जब मनरेगा भुगतान को आनलाइन किया गया तो प्रदेश के मुखिया ने तत्कालीन समय विरोध किया था। उन्होने यूपीए सरकार से बस्तर में मनरेगा का भुगतान नगद करने को कहा था। अब वह विरोध नहीं कर रहे। दरअसल उनमें हिम्मत नहीं कि प्रधानमंत्री मोदी से सवाल कर सकें।

भ्रष्टाचार के सवाल पर भूपेश ने बताया कि  अब नोट को नोट खरीद रहा है। पांच सौ का नोट चार सौ और तीन सौ में बिक रहे हैं। हजार का नोट आठ सौ में बिक रहा है। नए नोट में भी बट्टा काटा जा रहा है। यह अपने आप में पहला उदारण है कि नोट को नोट खरीद रहा है। वह भी खुलेआम।

अमित शाह के प्रदेश आगमन के सवाल पर पीसीसी अध्यक्ष ने कहा कि दरअसल वह भाजपा नेताओं , मंत्रियों के रिश्तेदारों के बचे हुए पुराने नोटों का सर्वे करने आ रहे हैं। नोटों को ठिकाने लगाने का दांव पेंच सिखाएंगे।

             BHUPESH..      बघेल ने बताया कि भानुप्रतापपुर में आदिवासी बन्धुओं का सम्मेलन होने वाला है। पिछली बार राहुल गांधी ने प्रदेश दौरे पर साथियों से कहा था कि दुबारा जल्द ही प्रदेश का दौरा करेंगे। हम लोगों ने 18 दिसम्बर को राहुल गांधी को बुलाने का फैसला किया है।  प्लान को स्वीकृत मिल जाती है तो राष्ट्रीय उपाध्यक्ष गुरूघासीदास जयंती पर प्रदेश का दौरा करेंगे।

                        भाजपा नेताओं की तरह कांग्रेस नेता  8 नवम्बर के बाद खातों की स्थिति की जानकारी देंने  के सवाल पर भूपेश ने कहा कि मोदी जी को भाजपा मंत्रियों से सत्ता में आने से लेकर आज तक की स्थिति की जानकारी मांगनी चाहिए।

                                             प्रेसवार्ता के पहले और बाद में पीसीसी अध्यक्ष ने महिला कांग्रेस और अन्य वरिष्ठ नेताओं से अलग-अलग और एक साथ चर्चा की। उन्होने बताया कि महिला कांग्रेस नेताओं से अलग मिलने का मुख्य कारण उन्हें भीड़ में मिलने का कम अवसर मिलता है। उनकी शिकायतों को दूर करने के लिए ही अलग से बातचीत की है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...