इंदिरा को भुलाया मोदी नेः कांग्रेस

t s sinhdewbhupesh1

रायपुर । प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल और कांग्रेस विधायक दल के नेता टीएस सिंहदेव ने कहा है कि अपनी अन्य विदेश यात्राओं के अनुरूप बांग्लादेश की यात्रा में भी नरेन्द्र मोदी ने भारत के प्रधानमंत्री पद के गरिमा के अनुरूप नहीं अपितु भारतीय जनता पार्टी के नेता के समान आचरण किया है। सीमा विवाद हल करने की वाह-वाही बटोरने में मशगूल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भूल गये कि इस विवाद के समाधान की पटकथा कांग्रेस के यूपीए सरकार के कार्यकाल में लिखी गयी थी तथा संसद में कांग्रेस सहयोग से ही इस मामले में सहमति बनी थी।

कांग्नरेस नेताओँ ने अपने बयान में कहा है कि नरेन्द्र मोदी ने बांग्लादेश के निर्माण के लिये साहसिक कदम उठाने वाली भारत की तत्कालीन प्रधानमंत्री स्व. इंदिरा गांधी का उल्लेख करना भी जरूरी नहीं समझा। बांग्लादेश की आजादी के लिये संसद में विपक्ष के नेता के रूप में स्व. इंदिरा गांधी को ‘‘दुर्गा स्वरूपा शक्ति का अवतार’’ की संज्ञा देने वाले अटल बिहारी बाजपेयी के लिये सम्मान ग्रहण करने वाले मोदी यह भी भूल गये कि बाजपेयी जी को सम्मान विपक्ष के नेता के रूप में तत्कालीन प्रधानमंत्री के सहयोग के लिये ही बंग्लोदश सरकार दे रही है। नरेन्द्र मोदी भूल गये कि 90000 से अधिक पाकिस्तानी सैनिको को युद्द बंदी बनाकर इंदिरा जी ने समूची दुनिया को अचंभित कर दिया था। ऐसे स्वर्णिम इतिहास को कैसे कोई प्रधानमंत्री भूल सकता है। नरेन्द्र मोदी की यह भूल उनकी उसकी संकीर्ण मानसिकता के कारण हुई होगी जिसके कारण उन्हें एक साल पहले भारतीय कहलाने में शर्म आती थी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर विदेशों में भी जाकर दलगत राजनीति करने और देश की गरिमा के प्रतिकूल काम करने का आरोप लगाते हुये कांग्रेस नेताओं ने कहा है कि यह कोई पहली बार नहीं हुआ है ! कमोबेश अपनी हर विदेश यात्रा में मोदी यह हरकत करते हैं। इससे मोदी  प्रधानमंत्री पद की गरिमा को आघात पहुंचाने के साथ साथ देश की छवि भी धूमिल कर रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *