कानून व्यवस्था से नाराज जोगी ने दी आंदोलन की धमकी

AMIT JOGI--BITE--EXCLUSIVEबिलासपुर–नगर पंचायत पेण्ड्रा के लक्ष्मनधारा में युवतियों से छेड़छाड़ और मारपीट किए जाने से नाराज अमित जोगी ने उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है। घटना के बाद नाराज जोगी कार्यकर्ताओं ने आज पेण्ड्रा बंद रखा। मरवाही विधायक अमित जोगी ने बताया कि मस्तूरी और पेंड्रा की घटनाओं से साफ़ जाहिर होता है कि प्रदेश में किसी भी जाति और धर्म की महिलाएं सुरक्षित नहीं है। पहले बस्तर में आदिवासी महिलाओं से अनाचार, फिर रायगढ़ जिले में दुराचार, मस्तुरी के देवगांव में बलात्कार और अब पेण्ड्रा में छेड़छाड़ । इससे जाहिर होता है कि प्रदेश कि कानून व्यवस्था पूरी तरह से बिगड़ चुकी है।
अमित जोगी ने प्रेस नोट जारी कर कहा है कि राज्य के कमोबेश सभी हिस्सों से महिलाओं से अनाचार.छेड़छाड़ की शिकायतें आ रही है। राज्य में महिलाओं का जीना हराम हो गया है। हाल ही में राजधानी रायपुर में माल खरौदा के एक नेता के खिलाफ समाजसेविका महिला ने छेड़छाड़ की शिकायत दर्ज करवाई है। मातृ शक्ति का अपमान देखने के बाद भी प्रदेश सरकार चुप बैठी है। प्रदेश की महिलाएं भय के माहौल में जी रही हैं।

अमित जोगी ने कहा कि महिलाओं के साथ लगातार अपराधिक घटनाओं से प्रदेश के मान सम्मान को धक्का लगा है।छत्तीसगढ़ के किसी भी हिस्से में किसी भी धर्म जाति या समुदाय की महिलाएं सुरक्षित नहीं है। इससे जाहिर होता है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज ही नहीं है।

मरवाही विधायक ने कहा कि मस्तूरी के आरोपी अभी तक पकड़ से दूर हैं। इसी बीच पेण्ड्रा में महिलाएं अपमानित हुई है। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जोगी के कार्यकर्ता महिलाओं का अपमान किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं करेंगे। यदि दोनों मामलों के आरोपियों को तत्काल पकड़ा नहीं जाता है तो पार्टी के नेता उग्र आंदोलन करेंगे।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...