पुलिस को देख उल्टे पांव लौटा अतिक्रमण दस्ता

DSCN7262बिलासपुर—बिना आदेश अवैध निर्माण गिराने गयी अतिक्रमण टीम को उल्टा को खाली हाथ वापस होना पड़ा है। पुलिस ने जब आदेश कापी दिखाने को कहा था निगम कर्मचारी एक दूसरे के पीछे छिपने लगे। मोहल्लेवासियों के विरोध और पुलिस के तेवर के सामने निगम कर्मियों की एक नहीं चली। बिना कार्रवाई के टीम को  उल्टे पाव लौटना पड़ा है।

                    निगम अतिक्रमण अधिकारी प्रमील शर्मा अतिक्रमण अमले के साथ गोंडपारा स्थित भोला चावला के छत और बाउंड्रीवाल को तोडऩे पहुंच गए। मोहल्लेवासियों ने निगम दस्ते का जमकर विरोध किया। जनआक्रोश को नजरअंदाज करते हुए अतिक्रमण दस्ता प्रभारी ने छत की बाउंड्रीवाल को तोडऩे का आदेश दे दिया।स्थानीय पार्षद मुकेश गुप्ता ने तोड़फोड़ किये जाने का सख्त विरोध किया।

                         तनाव की स्थिति को देखते हुए सिटी कोतवाली पुलिस भी मौके पर पहुंच गयी। पार्षद मुकेश गुप्ता ने थाना प्रभारी आरपी शर्मा को बताया कि बिना किसी आदेश के छत या बाउंड्रीवाल को नहीं तोड़ने दिया जाएगा। टीआई आरपी शर्मा ने निगम अधिकारियों से निर्माण कार्य हटाने का आदेश मांगा। पहले तो निगम अधिकारी जुगल किशोर ने आदेश होना बताया लेकिन पुलिस के पहुंच जाने के बाद भीड़ में छिपते नजर आए।

                                  अधिकारियों के पास आदेश नहीं होने पर टीआई ने कहा कि बिना आदेश के कार्रवाई नहीं होने दूंगा। इस बीच छत की बाउंड्रीवाल तोड़ने गए कर्मचारियों को टीआई शर्मा ने डांटकर नीचे उतारा। उन्होने कहा कि जब तक कागज नही आएगा कार्रवाई नही होने दूंगा। सिटी कोतवाली ने नगर निगम के डिप्टी कमिश्रर को भी कहा कि कागज भेजने के बाद ही कार्रवाई होगी।

                           प्रमील शर्मा ने बताया कि नगर निगम आयुक्त का आदेश पर ही अतिक्रमित किए गए निर्माण को तोड़ा जा रहा है। निगम ने चावला को कई बार नोटिस भेजा जा चुका है।

                 पूर्व पार्षद मुकेश गुप्ता ने बताया कि यह नगर निगम की दुकान है। इसमें भोला चावला परिवार के साथ रहता है। कुछ महीने पहले जर्जर छत को ठीक कराया गया। निर्माण कार्य के लिए निगम से अनुमति ली गयी है। उनके पास जरूरी दस्तावेज है। लेकिन अब नगर निगम इसे अवैध निर्माण बताकर तोड़ना चाहता है। जबकि अतिक्रमण हटाने आए किसी भी अधिकारी के पास आदेश की कापी नहीं है। यदि निगम से अतिक्रमण हटाने का आदेश हुआ है तो अधिकारी कागज दिखाएं। पूर्व पार्षद ने कहा कि वार्ड में 3 सौ से ज्यादा अवैध निर्माण है। लेकिन आज तक किसी पर कार्रवाई नही हुई।

 

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...