लोकतंत्र में एक-एक वोट कीमती–निहारिका बारिक

matdata divash (4)matdata divash (1)  बिलासपुर—गुरूघासीदास केन्द्रीय विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया गया। मुख्य अतिथि संभागायुक्त निहारिका बारिक सिंह ने सूची में शामिल नए मतदाताओं को बधाई दी। उन्होने कहा कि स्वतंत्र भारत में सभी वयस्कों को मतदान करने का अधिकार है। लोग अपनी जिम्मेदारी को ईमानदारी से अदा करें। एपिक कार्ड जरूर बनवायें।

                                      विश्वविद्यालय के रजत जयंती सभागार में आयोजित कार्यक्रम में नये मतदाताओं को संभागायुक्त ने फोटो परिचय पत्र देकर सम्मानित किया। नोडल अधिकारियों और बी.एल.ओ. को पुरस्कृत किया। संभागायुक्त बारिक ने कहा कि नए मतदाता आज दुनिया के सबसे बड़े गणतंत्र से जुड़ रहे हैं। यह अपने आप में बहुत बड़ा सम्मान है।  देश का हर नागरिक जो 18 वर्ष पूर्ण करता है उसे मतदाता परिचय पत्र पाने का अधिकार है।

                        परिचय पत्र धर्मनिरपेक्ष  राष्ट्र के नागरिक होने का प्रमाण है। कार्यक्रम की अध्यक्षता विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. अंजिला गुप्ता ने की। उन्होने कहा कि 25 जनवरी 1950 को भारत निर्वाचन आयोग की स्थापना हुई थी। इसके बाद हर साल 25 जनवरी को राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जाता है। भारतीय संविधान में सरकार गठन की व्यवस्था है। देश की जनता का सरकार प्रतिनिधित्व करती है। सरकार लोगों से चुनकर आती है। इसलिए हमारे एक-एक मत का महत्व है।

                    matdata divash (2)   कार्यक्रम को कलेक्टर ने भी संबोधित किया। कलेक्टर अन्बलगन पी. ने कहा कि  7 वां राष्ट्रीय मतदाता दिवस मना रहे हैं। चुनाव पांच वर्ष में एक बार होता है, लेकिन इसकी प्रक्रिया पूरे 5 वर्ष चलती है। पिछले 70 वर्ष का अनुभव है कि देश में वोटरों की भूमिका कम हो गयी है। चुनाव में औसत 60 प्रतिशत मतदान हो रहा है। 18 वर्ष से उपर हर नागरिक को अधिकार है कि वह मतदान करें। हर वर्ष जनवरी में मतदाता सूची का शुद्धिकरण और पुनरीक्षण किया जाता है। नागरिकों को मतदाता सूची में नाम जुड़वाने, कटाने या अन्यंत्र स्थानांतरित करने के लिए जागरूक रहना चाहिए। कलेक्टर ने कहा कि समाज और देश के सामने बहुत चुनौतियां है। लोकतंत्र के माध्यम से हमें चुनौतियों का सामना करने की शक्ति मिलती है। कलेक्टर ने मुख्य निर्वाचन आयुक्त भारत निर्वाचन आयोग का संदेश पढ़कर सुनाया।

जिले में 14 लाख 57 हजार 77 मतदाता –

          कलेक्टर ने बताया कि जिले में साढ़े 14 लाख से अधिक मतदाता है। जिले में 18 से 19 वर्ष आयु की 39 हजार 88 मतदाता है। 15 सितंबर से 14 अक्टूबर 2016 तक विशेष पुनरीक्षण के दौरान जिले में 25 हजार 645 मतदाताओं के नाम जोड़े गये और 11 हजार 133 नाम हटाए गये हैं। कार्यक्रम में नये मतदाता बनने वाले 11 मतदाताओं को एपिक कार्ड का वितरण किया गया।

लोकतंत्र में प्रत्येक वोट कीमती

राष्ट्रीय मतदाता दिवस उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय तिफरा में भी मनाया गया। छात्र छात्राओं को मुख्य अतिथि कलेक्टर अन्बलगन पी. ने संबोधित किया।matdata divsh tifra  (5)

                   कलेक्टर ने कहा कि हमारे देश का हर नागरिक जो 18 वर्ष का है उसे वोट देने का अधिकार है। हमारी व्यवस्था में सभी व्यक्ति मतदाता बन सकते हैं। भारत निर्वाचन आयोग के कार्यों की जानकारी देते हुए कलेक्टर ने कहा कि  देश में स्वतंत्र, निष्पक्ष और पारदर्शी चुनाव कराने की जिम्मेदारी आयोग करता है। कलेक्टर ने युवा पीढ़ी को संसदीय व्यवस्था की भी जानकारी के अलावा लोकसभा और राज्यसभा में निर्वाचन प्रक्रिया के बार में भी बताया। कलेक्टर ने कहा कि लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम के तहत् हर कर्मचारी निर्वाचन से संबंधित कार्य करने के लिए बाध्य है। राजनैतिक दलों के बारे में भी छात्रों को जानकारी दी। कलेक्टर ने कहा कि लोकतांत्रिक व्यवस्था में प्रत्येक वोट कीमती है।

                             कलेक्टर ने छात्र छात्राओं के सवालों का भी जवाब दिया। 18 वर्ष पूर्ण करने वाले मतदाताओं को परिचय पत्र देकर सम्मानित भी किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *