विवेकानन्द ने किया बाल सहायता केन्द्र का उद्घाटन

Childबिलासपुर—रेल प्रशासन स्टेशन में परिजनों से बिछड गए, गुमशुदा, घुमंतु बच्चों की सुरक्षा और काउंसिलिंग कर समाज की मुख्य धारा में जोडने का अभियान लगातार चला रहा है। पिछले दिनों सम्पर्क में आने वाले बच्चों की सुरक्षा और अधिकारों पर राज्य स्तरीय कार्यशाला का भी आयोजन किया गया।

                    गुमशुदा और बिछड़े बच्चों को घरेलु वातावरण देने की दिशा में बिलासपुर रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म एक पुराने आरपीएफ पोस्ट में सर्वसुविधा-युक्त बाल सहायता केन्द्र का खोला गया है। सहायता केन्द्र का शुभारंभ आज बिलासपुर रेंज के पुलिस महा-निरीक्षक विवेकानंद सिन्हा की मुख्य आतिथ्य में किया गया। कार्यक्रम में मुख्य सुरक्षा आयुक्त आर.एस.चैहान और विशिष्ट अतिथि बी.गोपीनाथ मलिया मंडल रेल प्रबंधक विशेष रूप से शामिल हुए।अतिथियों ने सहायता केन्द्र का फीता काटकर उद्घाटन किया।

                           दो कमरों वाली बाल सहायता केन्द्र में प्रसाधन से लेकर सीसीटीवी, बैड, विस्तर, कुलर, पंखे और कुर्सियों की व्यवस्था की गयी है। दीवारों पर बच्चों की पसंदीदा छोटा भीम, मोगली जैसे पात्रों की पेंटिंग है। कक्ष को बच्चों के मनोरंजन को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है। सहायता केन्द्र में प्रशासन ने खिलौनों का भी प्रबंध किया है।

                     उद्घाटन कार्यक्रम में रश्मि गौतम, वरिय मंडल वाणिज्य प्रबंधक, बी.एस.नाथ, वरिय मंडल सुरक्षा आयुक्त, पारूल माथुर, पुलिस अधीक्षक रेल,  समेत कई अधिकारी , चाईल्ड केयर समर्पित संस्था समन्वयक, सदस्य,जीआरपी और आरपीएफ के सदस्य भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *