बिलासपुर जोन का दावा…विकास और संरक्षा पर करोड़ों की सौगात

R_CT_RPR_54_12_RAILWAY_VIS_VISHAL_DNGबिलासपुर—-एक परवरी को सामान्य बजट के साथ वित्त मंत्री अरूण जेटली ने रेल बजट पेश किया। जोन प्रशासन ने रेल बजट को उत्साहजनक बताया है। संरक्षा और विकास पर बल दिया गया है। देश के किसी भी जोन को ना तो नई गाड़ियां मिली ना ही नई योजनाओं को लाया गया। बजट में केवल और केवल संरक्षा और विकास पर जोर दिया गया है। बिलासपुर जोन प्रशासन का दावा है कि पिछली बार की तुलना में संरक्षा और विकास पर करोड़ों रूपए अधिक मिले हैं।

                     बिलासपुर जोन प्रशासन के अनुसार पिछली बार की तुलना में बिलासपुर जोन को नई लाइन के विस्तार में पन्द्रह सौ करोड़ से अधिक रूपए मिले हैं। बिलासपुर जोन को प्रभु के बजट में रेल विस्तार के लिए कुल 260 करोड़ मिले थे। इस बार रेल पांत विस्तार पर वित्त मत्री अरूण जेटली ने 1799.26 करोड़ दिये है।

                                                                                                              बजट में बिलासपुर जोन को संरक्षा कार्य मद में पिछली बार की तुलना में 800 करोड़ अधिक राशि मिली है।नई लाइन बिछाने के अलावा गेज परिवर्तन. रेल पांत दोहरीकरण समेत अन्य संरक्षा संबधी कार्य किए जाएँगे। पिछली बार बिलासपुर जोन को संरक्षा मद में कुल 2773 करोड रूपए हासिल हुए थे। बेहतर काम भी किया गया। लेकिन इस बार बजट में 3584 करोड़ दिए गये हैं। जोन जनसंपर्क अधिकारी डॉ.त्रिपाठी ने बताया कि संरक्षा पर पिछले बार की तुलाना 800 करोड़ ज्यादा मिले है। जो निश्चित रूप से बहुत ही उत्साहजनक है।

                                                   सीजी वाल को डॉ.त्रिपाठी ने बताया कि लेबल क्रासिंग, रोड सेफ्टी, मानव लेवल रहित फाटक,अन्डर ब्रिज, अोन्हर ब्रिज समेत अन्य सेफ्टी कार्यो के लिए 2015-16 रेल बजट में 138 करोड मिले थे। इस बार 248.6 करोड़ खर्च किए जाएंगे। यह राशि पिछले बार की तुलना में कुल 110 करोड़ रूपए ज्यादा है।

                    बजट में बिलासपुर जोन में पटरियों के नवीनीकरण और अन्य जरूरी संरक्षा कार्य के लिए भी राशि में बढ़ोत्तरी की गयी है। साल 2016 में 218 करोड़ रूपए मिले थे। जबकि इस बार 382 करोड़ बिलासपुर जोन को दिया गया है। पिछली बार की तुलना में कुल 107 करोड़ रूपए ज्यादा है।

                        जोन प्रमुख जनसंपर्क अधिकारी ने बताया कि बिलासुपर मण्डल में कई प्रमुख स्थानों में आरओबी,एफओबी लेबल क्रासिंग का काम तेजी से किया जाएगा। आधारभूत संरचनाओं पर मजबूती के साथ काम किया जाएगा। हरद और कोतमा स्टेशन, अनूपपुर-अम्बिकापुर स्टेशनों के बीच लेबल क्रासिंग पर काम किया जाएगा। नैला में आरओबी, उरकुरा- सरोना स्टेश के बीच आरयूबी बनाया जाएगा।

विकास के साथ संरक्षा

                     जोन जनसम्पर्क अधिकारी डॉ.त्रिपाठी ने बताया कि सरकार ने संरक्षा के साथ रेल विकास और विस्तार को फोकस किया है। बिलासपुर जोन को पिछली बार की तुलना में संरक्षा और विकास पर भरपूर राशि मिली है। बिलासपुर जोन के लिए बजट काफी उत्साह जनक है। हम राशि का उपयोग बेहतर तरीके से करेंगे। रेल पांत दोहरीकरण,नई लाइनों का विस्तार पर भी पर्याप्त राशि मिली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *