गरीबो का हक़ मारने वालों को सीएम की चेतावनी

lakhiramमुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह सोमवार दोपहर जिला मुख्यालय रायगढ़ में पूर्व सांसद स्वर्गीय लखीराम अग्रवाल की 85वीं जयंती के मौके पर हुए विशाल स्वास्थ्य शिविर में शामिल हुए।डॉ. सिंह ने इस मौके पर मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत आयोजित सामूहिक विवाह समारोह में 134 जोड़ों को आशीर्वाद दिया और सत्रह ही उन्होंने मिनी स्टेडियम में हुए इस कार्यक्रम में 66 करोड़ 62 लाख रूपए के 101 निर्माण कार्यों का भूमिपूजन, शिलान्यास और लोकार्पण भी किया।डॉ सिंह ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वच्छ भारत मिशन का जिक्र करते हुए रायगढ़ जिले की जनता से सम्पूर्ण जिले को दिसम्बर 2017 तक खुले में शौचमुक्त (ओडीएफ) जिला बनाने का भी आव्हान किया।सीएम नेआयोजन में प्रधानमंत्री (ग्रामीण) आवास योजना के तहत जिले के दस हजार परिवारों को मकान स्वीकृति पत्रों का भी वितरण किया।

                                         मुख्यमंत्री ने कहा कि 148 करोड़ रूपए इन मकानों के निर्माण में खर्च होंगे।हितग्राहियों को राशि का भुगतान ऑनलाइन किया जाएगा।उन्होंने प्रशासन को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए कि योजना में किसी भी प्रकार गड़बड़ी न हो। मुख्यमंत्री ने कहा- चयनित परिवारों को शत-प्रतिशत राशि ऑनलाइन दी जाएगी।

                                          मुख्यमंत्री ने संभावित गड़बड़ी की फिराक में लगे व्यक्तियों को चेतावनी देते हुए कहा कि यह प्रधानमंत्री की योजना है। गरीबों के लिए शुरू की गयी इस योजना में कोई भी कांटा मारने का प्रयास न करें। ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री (ग्रामीण) आवास योजना के तहत छत्तीसगढ़ में इस वर्ष दो लाख परिवारों को मकान स्वीकृत किए जाएंगे। डॉ. सिंह ने लोक सुराज अभियान फिर शुरू करने का संकेत देते हुए कहा कि जितना जितना ज्यादा तापमान बढ़ेगा, उतनी ही मेरी यात्राएं होंगी। अधिकारी-कर्मचारी, जनप्रतिनिधि सबको चलना है।

                                       मुख्य अतिथि की आसंदी से विशाल स्वास्थ्य शिविर में जनता को सम्बोधित करते हुए डॉ. सिंह ने कहा कि केवल सड़क और पुल-पुलिया निर्माण ही नहीं, बल्कि स्वस्थ पीढ़ियों का निर्माण और जनता को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं दिलाना भी सरकार की सबसे बड़ी जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि मुझे सबसे ज्यादा तसल्ली ऐसे स्वास्थ्य शिविरों में होती है,जहां गरीबों को कठिन से कठिन बीमारियों के इलाज के लिए मदद मिलती है। डॉ. सिंह ने जिला स्तर के इस शिविर में 13 हजार से ज्यादा मरीजों को चिन्हांकित किए जाने और उनके लिए इलाज की समुचित व्यवस्था किए जाने पर खुशी जताई।

                                     डॉ. रमन सिंह ने कहा राज्य सरकार स्वास्थ्य बीमा योजना में स्मार्ट कार्ड की राशि तीस हजार रूपए से बढ़ाकर पचास हजार रूपए करने जा रही है।सीएम ने कहा कि जिन लोगों ने स्मार्ट कार्ड नहीं बनवाया है,वे जल्दी बनवा लें।डॉ. सिंह ने ड्रायवरों की आंखों की जांच की जरूरत पर भी बल दिया।उन्होंने कहा कि अधिकांश ड्रायवरों को मालूम ही नहीं रहता की उन्हें चश्में की जरूरत है। कई वाहन चालक मधुमेह, हृदय रोग आदि से पीड़ित रहते हैं, लेकिन अपने काम-काज में व्यस्त रहने के कारण उन्हें इसका पता नहीं चल पाता। वाहन चालकों का भी फिटनेस टेस्ट नियिमत रूप से होते रहना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *