पंडित श्यामाचरण को कांंग्रेसियों ने दी श्रद्धांजली

shyama charan बिलासपुर—जिला शहर कांग्रेस कमेटी ने  कांग्रेस भवन में अविभाजित मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री पंडित श्यामा चरण शुक्ल को 11 वीं पुण्यतिथि पर याद किया। सभी कांग्रेसियों ने तैल चित्र पर माल्यार्पण कर श्रध्दांजली दी। कांग्रेसियों ने पंडित शुक्ल को किसानप्रेमी, जनप्रिय और युगदृष्टा नेता बतया।

                श्रध्दांजली सभा को शहर अध्यक्ष नरेंद्र बोलर ने संबोधित किया। बोलर ने कहा कि श्यामा भैय्या को कृषि के क्षेत्र में दिए योगदान को हमेशा याद रखा जाएगा। उनका मानना था कि जब किसान समृद्ध होगा देश तभी मजबूत होगा | उन्होंने नहरों का जाल बिछाया। कार्यक्रम संयोजक सैय्यद ज़फर अली ने कहा कि स्वतंत्रता सेनानी श्यामा भैय्या छात्र जीवन से ही आंदोलनों में भाग लिया। पिता की मृत्यु के बाद 1957 में राजिम विधान सभा से चुनाव लड़े।

                       वरिष्ठ कांग्रेसी हरीश तिवारी ने श्यामाचरण के साथ बिताये गए समय को याद किया। उन्होने कहा कि उनमें बड़े होने का गुरुर नही था। कार्य कर्त्ताओ से उत्साह के साथ मिलते थे। पूर्व विधायक चन्द्र प्रकाश बाजपाई ने कहा कि मुझे श्यामा भैय्या के साथ काम करने का सौभाग्य मिला। मृदुभाषी ,कृषि के क्षेत्र की जानकारी रखने वाले नेता थे। विधानसभा में  जब  बोलते तो सारा सदन पक्ष एकाग्रचित्त हो जाता था। सुई गिरने की आवाज़ भी सुनी जा सकती थी।

               तरु तिवारी ने श्यामाचरण शुक्त के जीवन पर प्रकाश डाला। उनकी उपलब्धियों को सबके सामने रका। कार्यक्रम को जसबीर गुम्बर ने भी संबोधित किया। उन्होंने बताया कि श्यामाचरण 1969,1972,1989 में मध्य प्रदेश के मुख्य मंत्रीबने। अनेको बार विधानसभा का प्रतिनिधित्व किया। लोकसभा के लिए भी निर्वाचित हुए |

                  कार्यक्रम में त्रिभुन लाल कश्यप, गणेश रजक ,ब्लाक अध्यक्ष विनोद साहू , सुभाष ठाकुर,मनोज शर्मा, मनोज शुक्ला,हर्मेंद्र शुक्ला,कुंदन राव काम्बले,अजय नाम देव,दीपक पाण्डेय, खुशाल वाधवानी ,कुश निर्मलकर आदि उपश्थित थे |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *