सीएम से पूर्व सीएम ने लगाई न्याय की गुहार

JOGI-1 रायपुर—-बीजापुर स्थित किरंदुल थाना के गमपुर मेंभीमा कड़ती और हेमलता के साथ बलात्कार और मुठभेड़ की जांच को लेकर जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे..अध्यक्ष अजीत जोगी ने समर्थकों के साथ मुख्यमंत्री निवास तक मार्चपास्ट किया। मार्च में मृतक के परिजन भी शामिल हुए। इस दौरान अजीत जोगी ने निर्दोष बस्तरवासियों  को न्याय देने की गुहार लगाई । इसके बाद मामले की जांच की मांग को लेकर जोगी कांग्रेस नेता और परिजन उच्च न्यायालय का दरवाजे खटखटाने का एलान किया।

                    परिजनों के साथ रैली में शामिल पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कहा कि सरकार असंवेदनशील हो गयी है। पिछले बीस दिनों से मृतकों के शव को घरों के सामने बिना दाह.संस्कार के रखा गया है। लेकिन शासन और प्रशासन को कोई फर्क नहीं पड़ रहा है। जोगी ने कहा कि सरकार से मांग थी कि मृतकों का एक बार फिर पोस्ट मार्टम कराया जाए। मृतक भीमा कड़ती के बड़े भाई बामन कड़ती को तत्काल रिहा किया जाए। दोषी पुलिस कर्मियों पर हत्या का मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया जाए। जोगी ने कहा कि फर्जी एनकाउंटर मामलें विशेष अदालत का गठन किया जाए। लेकिन सरकार ने मांगों को अनसुना कर दिया है। इसलिए अब न्यायपालिका के पास जाने के अलावा हमारे पास कोई रास्ता नहीं है।

             न्याय चाहिए मार्च के दौरान मुख्यमंत्री निवास के सामने परिजनों रोकर अपनी कहानी को बयान किया। मृतक भीमा कड़ती के छोटे भाई अर्जुन कड़ती ने बताया कि गाँव दशहत में है। एक भाई की मौत हो गयी। दूसरा जेल में है…मुझे गांव जाने में अब डर लग रहा है।

   मालूम हो कि इसके पहले जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे की 10 सदस्यीय जांच टीम ने मृतकों के गाँव जाकर मामले की जांच कर रिपोर्ट का खुलासा किया हत्या का खुलासा किया था। राज्यपाल को रिपोर्ट देकर न्यायिक जांच की मांग की थी।

                        गमपुर एनकाउंटर के विरोध में मुख्यमंत्री निवास तक मार्च में धरमजीत सिंह,आर के राय, विधान मिश्रा ,सियाराम कौशिक समेत पार्टी के कई वरिष्ठ नेता और कार्यकर्ता शामिल थे।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...