नंदकुमार साय ने बताया जोगी को फर्जी आदिवासी

IMG_20170317_205442_962बिलासपुर— राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष नंदकुमार साय ने जोगी को फर्जी आदिवासी बताया है। उन्होने कहा कि मैने मरवाही चुनाव के बाद ही जिम्मेदार स्थानों पर जोगी की जाति की शिकायत की थी। इस समय मामला हाईपावर कमेटी के पास है। 31 मई को खुलासा हो जाएगा कि जोगी आदिवासी नहीं हैं। साय ने पत्रकारों को बताया कि जोगी के खिलाफ फर्जी आदिवासी होने के पर्याप्त रिकार्ड हैं। इसलिए पंचायत से सर्वेक्षण की जरूरत नहीं हैं। अनुसूचित जनजाति आयोग फर्जी आदिवासियों का पता लगा रही है। साय ने बताया कि सरकार को जनता और व्यवस्था के बीच का रास्ता निकालते हुए शराब विक्री पर निर्णय लेना होगा।

                             दो दिवसीय प्रवास पर बिलासपुर दौरे पर पहली बार पहुंचे राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष नंदकुमार साय ने पत्रकारों से छत्तीसगढ़ भवन में बातचीत की। उन्होने बताया कि जोगी की जाति का पता लगाने के लिए पंचायत में जाने की जरूरत नहीं है। जोगी के फर्जी आदिवासी होने का पर्याप्त रिकार्ड है। नंदकुमार साय ने सीजी वाल के सवाल का जवाब देते हुए कहा कि मैने मरवाही चुनाव लड़ने के बाद मामले में शिकायत की थी। जांच और निर्णय अंतिम स्थिति में है। मामला हाईपावर कमेटी के पास है। 31 मई को जोगी की जाति का खुलासा हो जाएगा। साय ने बताया कि राष्ट्रीय जनजाति आयोग फर्जी आदिवासियों की पहचान करेगी। आदिवासियों के हितों के संरक्षण किया जाएगा।

                                  जोगी आदिवासी हैं या नहीं हैं के सवाल पर साय ने झल्लाते हुए कहा कि मैने चुनाव लड़ने के बाद ही कह दिया था कि जोगी आदिवासी नहीं है। जांच की मांग के बाद मैने जोगी की जाति को लेकर कोई बात नहीं की है। चुनाव आते ही जोगी की जाति का मुद्दा सिर उठा लेता है के सवाल पर साय ने टालते हुए कहा कि मामला हाईपावर कमेटी के पाले में है..जल्द ही सामने आ जाएगा।

                साय ने बताया कि जोगी आईएएस,आईपीएस रह चुके हैं…उनकी जाति का जिक्र शैक्षणिक दस्तावेज में है। इसलिए जोगी की जाति सत्यापन के लिए पंचायत जाने की जरूरत नहीं है।

                                 साय ने एक सवाल के जवाब में बताया कि आदिवासियों के बीच भाजपा के घटते जनाधार को लेकर नहीं बल्कि उनके हितों को ध्यान में रखकर मुझे राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग का अध्यक्ष बनाया गया। सरकार लगातार अच्छा काम कर रही है। अध्यक्ष का पद खाली था मुझे आदिवासियों के हितों को ध्यान में रखकर महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी गयी है। मैं इसके अलावा कुछ नहीं जानता हूं। IMG-20170317-WA0001

शराब बना देता है रावण

                       शराबबंदी के सवाल पर साय ने कहा कि सरकार को परिस्थितियों के अनुसार निर्णय लेना होगा। शराबबंदी पर सरकार को निर्णय लेना होगा। क्या आप व्यक्तिगत रूप से शराबबंदी के पक्ष में है के सवाल पर साय ने कहा कि मेरी व्यक्तिगत राय के कोई मायने नहीं हैं। मेरा मानना है कि शराब रावण जैसे ज्ञानी पुरूष को राक्षस बना दिया। मैने 1970 से मैने शराब के कारण नमक खाना छोड़ दिया है। इसका अर्थ है कि आप चाहते हैं कि शराब बिक्री पर प्रतिबंध होना चाहिए। साय ने कहा कि पत्रकार अपनी बातों को मेरे मुंह में ना डालें। सरकार हमारी,जनता हमारी,कार्यकर्ता और प्रदेश भी हमारा। इसलिए सरकार को परिस्थितियों के अनुसार शराब क्रय विक्रय को लेकर रास्ता निकालना होगा।

मयावती कर रहीं हैं दिखावा

                                 साय ने एक सवाल के जवाब में कहा कि देश करवट बदल रहा है। उत्तर प्रदेश,उत्तरांचल में भाजपा की सरकार बन रही है। गोवा और मणिवपुर में भी भाजपा की सरकार बन गयी है। जनता ने नोटबंदी का समर्थन किया है। साय ने बताया कि मयावती ने हार नहीं स्वीकार करते हुए ईवीएम को विवादास्पद बनाने का प्रयास किया है। जबकि जनादेश ने मयावती को नकार दिया है। दरअसल अपनी हार को छिपाने के लिए मायावती ईवीएम का सहारा ले रही हैं।

आदिवासी मुख्यमंत्री

                        छत्तीसगढ़ में आदिवासी मुख्यमंत्री होने के सवाल पर साय ने कहा कि मैने आदिवासी मुख्यमंत्री को लेकर कभी बयान नहीं दिया। मुख्यमंत्री का निर्णय हाईकमान के दिशा निर्देश में होता है। क्या आदिवासी मुख्यमंत्री के लायक नहीं हैं के सवाल पर साय ने झल्लाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री बनाने के निर्णय पार्टी के दिशा निर्देश में होता है। उन्होने कहा कि बहुसंख्यक आबादी को हक मिलना चाहिए लोकतांत्रिक व्यवस्था में ऐसा निर्णय है।

जमकर हुआ स्वागत

                     आयोग का अध्यक्ष बनने के बाद नंदकुमार साय के प्रथम नगर आगमन पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने जमकर स्वागत किया। घंटो इंतजार के बाद बिलासपुर पहुंच नंदकुमार के समर्थन में कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी की। राज्य महिला आयोग अध्यक्ष हर्षिता पाण्डेय ने साय का पुष्पगुच्छ भेंटकर स्वागत की। महिला मोर्चा पदाधिकारियों के अलवा , भाजपा यूथ विंग और रजननीश सिंह,रामदेव कुमावत ने भी नंद कुमार का पुष्पगुच्छ से स्वागत किया।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...