फरार संभागीय प्रवक्ता का इस्तीफा मंजूर

manishankar_index_fileबिलासपुर—-जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के सुप्रीमों अजीत जोगी ने बिलासपुर जिला प्रवक्ता मणीशंकर पाण्डे का इस्तीफा को प्रदेश अनुशासन समिति के अध्यक्ष पूर्व विधानसभा अध्यक्ष जनता कांग्रेस नेता धर्मजीत सिंह को भेज दिया है। यह जानकारी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के प्रवक्ता सुब्रत डे दी है।

                    जनता कांग्रेस बिलासपुर संभागीय प्रवक्ता मणिशंकर पाणेडय पर ब्लैकमेलिंग के आरोप में सरकंडा थाने में मामला दर्ज है। अपराध दर्ज होने के बाद मणिशंकर पाणेडय फरार है। पुलिस जनता कांग्रेस के संभागीय प्रवक्ता को तलाश कर रही है। तीन दिन पहले बिलासपुर पुलिस कप्तान के निर्देश पर सरकंडा थाने में मणिशंकर के खिलाफ डीएलएस कालेज के चेयरमैन वसंत शर्मा के शिकायत पर ब्लैकमेलिंग करने का आरोप दर्ज किया गया है। डीएलएस कालेज चेयरमैन और कांग्रेस नेता वसंत शर्मा ने एक सीडी एसीबी और पुलिस कप्तान को दिया था। इसमें मणिशंकर पाणेडय और डीएलस कालेज चेयरमैन के बीच लेनदेन की बात सामने आयी है।

                             करीब 9 महीने पहले मणिशंकर ने डीएलएस कालेज चेयरमैन को धमकाया था कि उसके आठ भाई विभिन्न शासकीय पदों में काम कर रहे हैं। भ्रष्टाचार के रूपए से डीएलएस कालेज संचालित किया जा रहा है। एसीबी की नजर डीएलस कालेज पर है। किसी भी समय छापा पड़ सकता है। मणिशंकर ने वसंत शर्मा को बताया था कि जनता कांग्रेस सुप्रीमों का वह नजदीकी है। एसीबी के अधिकारियों से उसकी अच्छी पहचान है। यदि छापामार कार्रवाई से बचना है तो पांच लाख रूपए दे। इसके अलावा पांच लाख की दूसरी किस्त बाद में देना होगा।

                                           डरे सहमें बसंत शर्मा मामले की शिकायत एसीबी से की। एसीबी ने बसंत शर्मा को पांच लाख रूपए देने के अलावा रिकार्डिंग करने को कहा। कुछ दिन बाद मणिशंकर पाण्डेय रूपए लेने डीएलएस कालेज आया। बातचीत और लेनदेन को बसंत शर्मा ने रिकार्ड कर लिया। प्रमाण को एसीबी और एडीजे मुकेश गुप्ता के पास भेज दिया। एडीजे के निर्देश पर बिलासपुर पुलिस कप्तान ने मामले में छानबीन की जिम्मेदारी सरकंडा के तात्कालीन थानेदार एस.एन.शुक्ला को दिया। मामला बहुत दिनो तक दबाकर रखा गया। बसंत शर्मा की शिकायत और थानेदार शुक्ला के हटने के बाद रिपोर्ट को वर्तमान थानेदार ने पेश किया। पुलिस कप्तान मयंक श्रीवास्तव के निर्देश पर मणिशंकर के खिलाफ अपराध दर्ज किया गया।

               अपराध दर्ज होने के बाद मणिशंकर फरार है।  जनता कांग्रसे छत्तीसगढ़ जे के प्रदेश प्रवक्ता सुब्रत जे ने बताया कि पार्टी अध्यक्ष अजीत जोगी ने छत्तीसगढ़ वासियों को सत्ता में भागीदारी देने और ढाई करोड़ लोगों की इच्छाओं को पूरा करने पार्टी का गठन किया है। छत्तीसगढ़ सरकार की नीति निर्धारण करने जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ का गठन किया है। गलत काम करने वाले किसी भी बड़े नेता को नहीं छोड़ा जाएगा। अजीत जोगी ने मणिशंकर पाण्डेय के इस्तीफा को स्वीकार करते हुए अनुशासन समिति को भेज दिया है।

            सुब्रत ने बताया कि पार्टी सामाजिक और राजनैतिक सुचिता बनाये रखने के उद्देश्य से एक लैण्डलाईन नम्बर 0771.2445333 जारी किया है। पार्टी का कोई भी सदस्य किसी प्रकार का चंदा या आर्थिक लाभ भयादोहन या किसी प्रकार की गतिविधियाँ में संलिप्त है और पार्टी की छबि धूमिल कर रहा हो नम्बर पर जानकारी दे सकता है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...