पुलिस हिरासत में अन्तर्राज्यी चोर…लाखों रूपए बरामद

IMG-20170414-WA0007बिलासपुर— बिलासपुर स्पेशल पुलिस ने स्पेशल अभियान चलाकर अन्तर्राज्यीय चोरों को धर दबोचा है। दोनो आरोपी मध्यप्रदेश के शहडोल और अनूपपुर जिले के रहने वाले हैं। दोनों ने मिलकर बिहार,छत्तीसगढ़.,महाराष्ट्र, समेत कई राज्यों में घूम घूमकर रेकी के बाद बैंक से निकालने वालों को निशाना बनाया है।  पुलिस के अनुसार दोनों में से एक आरोपी चोरी के एक मामले में पकड़ा गया था। चन्द्रभान नट करीब 6 महीने पहले भोपाल जेल से जमानत में रिहा हुआ है।

                      पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 28 मार्च को पेन्ड्रा थाना के सुराजी कालोनी में अज्ञात लोगों ने एक्टिवा की डिग्गी तोड़कर एक लाख चौदह हजार रूपए पार कर दिया। पीड़ित ने मामले में पेन्ड्रा थाना पहुंचकर लिखित शिकायत की । पीड़ित अभिषेक मिश्रा ने पुलिस को बताया कि वह 28 मार्च को एसबीआई से एक लाख चौदह हजार रूपए निकाला। लाल कपड़े में लपेटकर एक्टिवा की डिग्गी में डाल दिया। इसके बाद सुराजी कालोनी पहुंचा। एक्टिवा खड़ी कर घर के अन्दर गया। दस मिनट बाद आया तो देखा कि डिग्गी टूटी हुई है। एक लाख चौदह हजार रुपए किसी ने पार कर दिया है।

                                        पुलिस प्रवक्ता अर्चना झा ने बताया कि चोरी की घटना को पुलिस कप्तान ने गंभीरता से लेते हुए विशेष टीम को पतासाजी करने को कहा। टीम में सीएसपी लखन पटले.गौरेला एसडीओपी नरेन्द्र बेनताल को शामिल किया गया। पुलिस टीम ने पेन्ड्रा बैंक और आसपास के सीसीटीवी को खंगाला। पतासाजी के दौरान मालूम हुुआ कि अज्ञात आरोपियों ने पल्सर या टीवीएस अपाचे गाड़ी का घटना के बाद उपयोग किया है। IMG-20170414-WA0009

                       जांच पड़ताल के बाद पुलिस ने विशेष मध्यप्रदेश के शहडोल,अनूपपुर,कोतमा,सोहागपुर,रीवां,पन्ना,सतना जबलपुर में पतासाजी की। इसके अलावा छत्तीसगढ़ के जशपुर,अंबिकापुर,रायगढ़ से भी वाहनों की जानकारी मांगी गयी। इसी दौरान पुलिस को जानकारी मिली घटना के समय उपयोग की गयी मोटरसायकल एमी 18 एमजे..2080 चन्द्रभान ऊर्फ बबलू पिता सुखधान कहरौद बुढ़ार के नाम रजिस्टर्ड है। रिकार्ड खंगालने के बाद पुलिस को जानकारी मिली कि चन्द्रभान बिलासपुर के कोटा थाना और सिविल लाइन क्षेत्र में लूटपाट और उठाईगिरी की घटना में चालान दर्ज है।

                                         पुलिस को कुछ ऐसी जानकारी मिली कि पेन्ड्रा में एक्टिवा की डिग्गी तोड़कर चन्द्रभान और आकाश ने ही रूपए पार किये हैं। पुलिस ने बताया कि चन्द्रभान निवासी कोहरौद थाना बुढार शहडोल और आकाश कंजर पिता  विनोद सिंह भोलगर जिला अनूपपुर का रहने वाला है। दोनों ने घटना को अंजाम देने के बाद रीवा सतना की तरफ भागे हैं। खोजबीन के दौरान जानकारी मिली कि दोनों ने रीवा सतना,छतरपुर,पन्ना में बैंकों की रैकी और मुहिम में असफल होने के बाद  पेन्ड्रा और गौरेला थाना क्षेत्र में घूम रहे हैं।

                  पुलिस कप्तान के निर्देश पर स्पेशल टीम ने पेन्ड्रा में तलाशी के दौरान दो लोगों को अपाचे के साथ संदिग्ध पाया गया । सीसीटीवी मिलान में अपाचे गाड़ी में समानता पायी गयी । दोनों ने कड़़ाई से पूछताछ के बाद सबकुछ सच बता दिया। दोनों ने बताया कि सुराजी कालोनी के पास घटना को अंजाम दिया है।

             पुलिस प्रवक्ता अर्चना झा ने बताया कि दोनों आदतन आरोपी हैं। बिहार,उड़ीसा,छत्तीसगढ़,महाराष्ट्र समेत कई राज्यों में मोटर सायकल से घूमकर बैंको की रेकी करते थे। बैंक से रूपए निकालने वालों को निशान बनाते थे।

                                  पुलिस ने आरोपियों के पास से ढाई लाख रुपए नगद समेत चार मोबाईल,एक पासबुर,दो एटीएम कार्ड बरामद किया है। आरोपियों के अपाचे मोटरसायकल ,डिग्गी खोलने में उपयोग होने वाले पेचकस को जब्त किया है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...