पानी की बरबादी पर होगी कार्रवाई

COLLECTORATEबिलासपुर— लोक सुराज समाधान शिविरों में निस्तारी के लिए पानी छोड़ने की लगातार मांग को देखते हुए प्रशासन ने 21 अप्रैल को खूंटाघाट से पानी छोडने का आदेश दिया है। समाधान शिविर के दौरान लोगों ने बताया कि भीषण गर्मी में तालाब सूख चुके हैं। इंसानों की निस्तारी और जानवार पानी के परेशान हैं।

               लोगों की लगातार मांग को देखते हुए जिला प्रशासन ने खूंटाघाट प्रबंधन को पानी छोड़ने का निर्देश दिया है। जलसंसाधन विभाग ने 21 अप्रैल शुक्रवार को सुबह 10 बजे खूंटाघाट बांध से पानी छोड़ने का निर्णय लिया है। नहर के आसपास के लगभग 100 गाँव में निस्तारी तालाब भरे जाएंगे।

         कलेक्टर अन्बलगन पी. और जल संसाधन विभाग ने निर्देश दिया है कि नहर से तालाब तक पानी के लिए जनता नाली बनायें। पानी 7 दिन तक ही दिया जायेगा। तालाब में ज्यादा मात्रा में पानी का स्टोरेज ना करें। ताकि अधिक से अधिक गांव तक पानी पहुच सके। कलेक्टर की बरबादी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने का भी निर्देश दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *